'My Result Plus

पीयू के कुलपति को एक्सटेंशन मिलने के आसार खत्म

Chandigarh Updated Tue, 19 Jun 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
चंडीगढ़। पंजाब यूनिवर्सिटी (पीयू) के मौजूदा कुलपति प्रो. आरसी सोबती को एक्सटेंशन मिलने के आसार अब खत्म हो गए हैं और उनके विकल्प की तलाश शुरू हो गई है। पीयू के कुलाधिपति और देश के उप-राष्ट्रपति डॉ. हामिद अंसारी ने तीन सदस्यीय सर्च कमेटी से पीयू के अगले कुलपति के लिए तीन नामों की सूची सौंपने को कहा है।
पीयू के अगले कुलपति को लेकर पिछले कुछ दिनों से तरह-तरह की चर्चाएं चल रही थीं, लेकिन सोमवार को उप-राष्ट्रपति कार्यालय से स्पष्ट कर दिया गया कि अगले कुलपति के तलाश के लिए गठित एक्सपर्ट कमेटी (सर्च) नहीं बदली जाएगी। 9 फरवरी को कुलाधिपति की ओर से पंजाब यूनिवर्सिटी एक्ट, 1947 के तहत गठित कमेटी को अपना काम जारी रखने और तीन नाम जल्द से जल्द प्रस्तावित कर सौंपने को कहा गया है। कुलाधिपति कार्यालय की ओर से जारी विज्ञप्ति में स्पष्ट किया गया है कि मौजूदा कुलपति प्रो. आरसी सोबती का कार्यकाल 22 जुलाई को खत्म हो रहा है।
कुलाधिपति की ओर से फरवरी में गठित सर्च कमेटी को लेकर यह विवाद हो गया था कि कमेटी का गठन यूजीसी के नियमों के तहत नहीं हुआ है। इस विवाद के बाद अप्रैल में केंद्रीय मानव संसाधन एवं विकास मंत्रालय से स्पष्टीकरण मांगा गया था कि यूजीसी के नियम पीयू के कुलपति की नियुक्ति पर प्रभावी होते हैं या नहीं? इसके बाद सर्च कमेटी को मंत्रालय के जवाब आने तक आगे का काम करने के लिए रोक दिया गया था।
अब मंत्रालय ने कुलाधिपति कार्यालय को सलाह दी है कि यूजीसी के नियम 2010 को लेकर कुछ जटिलताएं हैं और यूजीसी से इन नियमों की दोबारा से समीक्षा करने को कहा गया है। जब तक यूजीसी की ओर से इन नियमों की नए सिरे से समीक्षा की जाती है, तब तक पंजाब यूनिवर्सिटी एक्ट 1947 और इस एक्ट के सेक्शन 31 के नियम प्रभावी रहेंगे। साथ ही पंजाब पुनर्गठन कानून, 1966 की धारा 72 के तह जारी होने वाली सरकारी अधिसूचनाएं भी प्रभावी रहेंगी।

ये हैं प्रबल दावेदार
पीयू के अगले कुलपति के लिए प्रबल दावेदारों में लॉ विभाग के प्रोफेसर पटियाला के राजीव गांधी लॉ यूनिवर्सिटी के मौजूदा कुलपति प्रो. परमजीत सिंह जसवाल और पीयू के बॉटनी विभाग के पूर्व अध्यक्ष एवं डीन रिसर्च प्रो. आरके कोहली शामिल हैं। सूत्रों का कहना है कि दोनों के बीच अगले कुलपति के लिए कड़ी टक्कर है। सर्च कमेटी के एक सदस्य ने भी कहा कि कमेटी ने तीन नाम लगभग तय कर लिए हैं और जल्द ही ये नाम कमेटी कुलाधिपति को सौंप देगी। कुलपति पद के अन्य दावेदारों में पीयू के दर्शन शास्त्र विभाग के पूर्व प्रोफेसर और रूहेलखंड विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रो. सत्यपाल गौतम, लोक प्रशासन विभाग के प्रोफेसर बीएस घु्म्मन, पीयू के डीयूआई प्रो. बीएस बराड़ और अंग्रेजी विभाग के प्रोफेसर शैली वालिया शामिल हैं।

यह है सर्च कमेटी
कुलाधिपति की ओर से पीयू के कुलपति की तलाश के लिए हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट की पूर्व चीफ जस्टिस लीला सेठ की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय कमेटी गठित की गई थी। इस कमेटी में हैदराबाद यूनिवर्सिटी के पूर्व कुलपति और केंद्र सरकार के डिपार्टमेंट ऑफ साइंस एंड टेक्नालाजी के पूर्व सचिव डॉ. पी रामा राव और रिटायर्ड आईएफएस अधिकारी व पीयू सीनेट सदस्य आईएस चड्ढा शामिल हैं। इस कमेटी को कुलपति पद के योग्य पीयू के उम्मीदवारों के साथ अन्य योग्य उम्मीदवारों में से तीन नाम सुझाने को कहा गया है।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

10 साल पुराने चक्का जाम केस में कांग्रेस विधायक को कोर्ट ने भेजा जेल

भोपाल में फास्ट ट्रैक कोर्ट ने राऊ से कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी को 10 साल पुराने चक्का जाम के केस में जेल भेज दिया।

20 अप्रैल 2018

Related Videos

VIDEO: इस सिंगर ने लगाया पाकिस्तानी एक्टर अली जफर पर यौन उत्पीड़न का आरोप

बॉलीवुड की कई फिल्मों काम कर चुकें पाकिस्तान के एक्टर अली जफर पर वहीं की एक मशहूर सिंगर ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं। गायिका ने ये आरोप अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर लिखकर बयां किए हैं।

20 अप्रैल 2018

Recommended

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen