विज्ञापन

ओलावृष्टि के 37 गांवों के 4515 किसान चिह्नित

Hamirpur Updated Mon, 07 May 2012 12:00 PM IST
मौदहा (हमीरपुर)। क्षेत्र में चक्रवाती तूफान और ओलावृष्टि से बुरी तरह प्रभावित हुए 37 गांवों के 4515 किसान चिह्ति हुए है। इन किसानों का राजस्व विभाग ने 1 करोड़ 32 लाख से अधिक की सहायता राशि दिए जाने का प्रस्ताव तैयार किया है। इसमें लघु, सीमांत व बड़े किसानों के क्षति का अलग अलग आकलन करते हुए लेखपालों ने पांच फीसदी से अधिक क्षति वालों को चिह्नित किया है।
विज्ञापन
विज्ञापन
11 अप्रैल की शाम तहसील क्षेत्र के 37 गांवों में भारी ओलावृष्टि से फसलें बरबाद हो गईं। कर्ज माफी की आवाजें उठने लगीं। राजनैतिक दलों सहित कई किसान संगठन दबाव बनाने लगे। राजस्व विभाग के लेखपालों की टीमें गठित कर फसलों की क्षति और प्रभावित गांवों की रिपोर्ट शासन को भेजी गई। अब क्षति के रकबा सहित अन्य आकलन की विस्तृत रिपोर्ट तैयार हुई है।
राजस्व विभाग के आकलन के मुताबिक जिन 37 गांवों में ओलावृष्टि से 50 फीसदी से अधिक की क्षति हुई है। उससे 2330.414 हेक्टेयर पर खड़ी फसलें प्रभावित हुई हैं। जिसमें किसानों को भारी क्षति हुई है। इसमें 4515 किसान प्रभावित हुए हैं। यह सरकारी मुआवजे के हकदार हैं। इनको एक करोड़ 32 लाख से अधिक की धनराशि मांगे जाने का प्रस्ताव है। इस धनराशि में न्यूनतम क्षति पर 500 रुपए व अधिकतम प्रति हेक्टेयर 6 हजार रुपए लघु सीमांत किसानों के लिए तथा बड़े काश्तकारों के लिए देय है।

Recommended

कुंभ मेले में अतुल धन, वैभव, समृधि प्राप्ति हेतु विशेष पूजा करवायें और प्रसाद की होम डिलीवरी पायें
त्रिवेणी संगम पूजा

कुंभ मेले में अतुल धन, वैभव, समृधि प्राप्ति हेतु विशेष पूजा करवायें और प्रसाद की होम डिलीवरी पायें

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

मध्य प्रदेश में बुराड़ी कांड जैसी घटना! एक ही परिवार के चार लोगों की रहस्यमयी मौत

मध्य प्रदेश के रायसेन जिले में एक ही परिवार के चार सदस्यों की रहस्यमयी मौत का मामला सामने आया है। इस घटना को दिल्ली के बुराड़ी कांड से जोड़कर देखा जा रहा है वहीं पुलिस हर एंगल से मामले की जांच कर रही है।

23 जनवरी 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree