बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

फायरिंग में विवाहिता की जान गई

Badaun Updated Thu, 03 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
कादरचौक (बदायूं)। थाना क्षेत्र केगांव बरचऊ में बुधवार की दोपहर पुरानी रंजिश के चलते दो पक्षों के बीच हुई ताबड़तोड़ फायरिंग में एक विवाहिता की गोली लगने से मौत हो गई। घटना केबाद इलाके में सनसनी फैल गई। दोनों पक्षों के लोग वहां से असलहे लेकर भाग निकले। एक पक्ष का मुखिया पुलिस ने बेहोशी की हालत में हिरासत में लिया है। देर शाम तक इस मामले में तहरीर न मिलने की वजह से पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया था।
विज्ञापन

गांव निवासी राजाराम यादव और मुनीष यादव के बीच होली के पर्व पर शराब केनशे में कहासुनी हो गई थी। बात बढ़ने पर दोनों पक्षों के बीच फायरिंग भी हुई थी। हालांकि ग्रामीणों के हस्तक्षेप से मामला सुलह-समझौता हो गया था लेकिन दोनों के दिलों में बदले की आग धधक रही थी।

बुधवार की दोपहर दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए। राजाराम ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर खेत पर काम कर रहे मुनीष को पीटकर घायल कर दिया। मारपीट में मुनीष बेहोश हो गया। इस पर मुनीष पक्ष के लोग असलहे लेकर वहां आ धमके। दोनों ओर से फायरिंग होने लगी।
इस दौरान एक गोली घर के दरवाजे पर बैठी रामभजन की 20 वर्षीय विवाहित पुत्री चंद्रकली को लग गई। इससे उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। सूचना मिलने पर एसपी रतन श्रीवास्तव ने घटनास्थल का मुआयना कर थाना पुलिस को दोनों पक्षों की गिरफ्तारी के निर्देश दिए हैं।

होली पर मायके आई थी चंद्रकली
रामभजन ने अपनी पुत्री चंद्रकली का विवाह कांशीरामनगर के थाना एटा क्षेत्र के गांव धीरजनगला निवासी इंद्रपाल के साथ तीन वर्ष पूर्व की थी। उसका एक पुत्र तीन साल और एक की उम्र पांच माह है। रामभजन ने बताया कि होली पर उसकी पुत्री मायके आई थी। तब से यहीं ठहरी हुई थी।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us