Hindi News ›   World ›   UN Syed Akbaruddin slams Pakistan Prime Minister Imran Khan for spreading fake video

इमरान का फर्जी ट्वीट: यूएन में भारत के राजदूत अकबरुद्दीन बोले- पुरानी आदतें कभी नहीं जाती

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, न्यूयॉर्क Published by: अनवर अंसारी Updated Sat, 04 Jan 2020 10:03 AM IST
सैयद अकबरुद्दीन-इमरान खान (फाइल फोटो)
सैयद अकबरुद्दीन-इमरान खान (फाइल फोटो) - फोटो : ANI/PTI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने सोशल मीडिया पर भारत के खिलाफ फर्जी वीडियो पोस्ट किए जाने के मामले पर पाकिस्तान को निशाने पर लिया है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की ओर से बार-बार इसी प्रकार के कार्य किए जाते रहे है। पुरानी आदतें कभी नहीं जाती है। 

विज्ञापन



दूसरी ओर, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने भी पाकिस्तान को खरी-खोटी सुनाई है। प्रवक्ता ने कहा कि फर्जी खबर ट्वीट करो। पकड़े जाओ। डिलीट करो। फिर से वही काम करो। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार देर रात बांग्लादेश के सात साल पुराने हिंसा के वीडियो को यूपी में मुस्लिमों के खिलाफ भारतीय पुलिस द्वारा अत्याचार करने का दावा करते हुए ट्वीट किया। लेकिन, जब उनके इस फर्जीवाड़े की पोल खुली तो उन्होंने ट्वीट को हटा लिया था। 

दरअसल, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर भीड़ के हमले की घटना से लोगों का ध्यान हटाने के लिए शुक्रवार को कई वीडियो पोस्ट कर ‘भारत में मुस्लिमों पर पुलिस अत्याचार’ का झूठा दावा किया।

बांग्लादेश के करीब सात साल पुराने वीडियो को ट्वीट कर इमरान ने दावा किया कि भारतीय पुलिस मुस्लिमों पर अत्याचार कर रही है। हालांकि, सोशल मीडिया पर जब इमरान की किरकिरी होने लगी तो उन्होंने ये वीडियो हटा दिए। वहीं, यूपी पुलिस ने भी ट्वीट कर साफ किया कि ये वीडियो यूपी के नहीं हैं। यूपी पुलिस ने ट्वीट किया, यह यूपी से नहीं है बल्कि मई, 2013 में बांग्लादेश की राजधानी ढाका की घटना का है।

वीडियो में इमरान जिन्हें यूपी पुलिस के जवान के तौर पर बता रहे थे, उनकी वर्दी पर साफ-साफ आरएबी लिखा हुआ देखा जा सकता है। आरएबी (रैपिड एक्शन बटालियन) बांग्लादेश पुलिस की आतंक निरोधी इकाई है। इमरान ने जिस वीडियो को ट्वीट किया, वही वीडियो यू-ट्यूब पर 10 सितंबर 2013 को अपलोड किया गया है। वीडियो के बारे में दावा किया गया है कि हिफाजत-ए-इस्लाम रैली पर बांग्लादेशी पुलिस ने बर्बरता की है।

पाकिस्तान के ननकाना साहिब में भीड़ का हमला
गौरतलब है कि पाकिस्तान के ननकाना साहिब में शुक्रवार को भीड़ ने सिखों के पवित्र स्थल ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर पथराव कर दिया और सिखों के खिलाफ नारेबाजी की। इसके कारण पहली बार भजन-कीर्तन रद्द करना पड़ा। ननकाना साहिब गुरू नानक का जन्मस्थान है। भारत ने गुरुद्वारे पर पथराव पर कड़ी निंदा की है। विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान से सिखों की सुरक्षा सुनिश्चित करने और हमलावरों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00