बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

Air Strike: इस्राइल ने गाजा में किया हवाई हमला, फलीस्तीनी सुरक्षा अधिकारियों का दावा 

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला Published by: Amit Mandal Updated Wed, 16 Jun 2021 05:14 AM IST

सार

इस्राइल और फलीस्तीन के बीच एक बार फिर विवाद की आग सुलगती दिख रही है। बुधवार सुबह इस्राइल की तरफ भड़का बैलून भेजे जाने के बाद फलीस्तीन क्षेत्र में हवाई हमला किया गया। 
विज्ञापन
Isreal air strike (file photo)
Isreal air strike (file photo)
ख़बर सुनें

विस्तार

इस्राइल में नई सरकार के सत्ता में आते ही युद्ध का नया दौर शुरू होता दिख रहा है। एएफपी ने फलीस्तीनी सुरक्षा सूत्रों के हवाले से कहा है कि इस्राइल ने गाजा में हवाई हमला किया है। दो दिन पहले ही इस्राइल में नेफ्टाली बेनेट के नेतृत्व में गठबंधन सरकार का गठन हुआ है। 
विज्ञापन

 
एएफपी ने सूत्रों और प्रत्यक्षदर्शियों के हवाले से बताया कि बुधवार सुबह फलीस्तीन की तरफ से आतंकियों ने दक्षिण इस्राइल की तरफ भड़काऊ बैलून भेजे जिसके बाद इस्राइल ने हवाई हमला किया।  

 
इस्राइलियों ने पूर्वी यरूशलम में किया मार्च 

सैकड़ों की संख्या में इजराइल के धुर राष्ट्रवादियों ने ताकत का प्रदर्शन करने के लिए मंगलवार को पूर्वी यरूशलम में परेड की। इस घटनाक्रम के कारण गाजा पट्टी में हमास आतंकवादियों के साथ युद्ध के महज कुछ ही सप्ताह बाद नये सिरे से हिंसा भड़कने का खतरा पैदा हो गया।

वहीं, गाजा में फलस्तीनियों ने गुब्बारे छोड़ कर इसका जवाब दिया। उनकी इस गतिविधि से दक्षिणी इजराइल में कम से कम 10 स्थानों पर आग लग गई। मार्च इस्राइल की नई सरकार के लिए और इस्राइल और हमास के बीच 11 दिनों के युद्ध को खत्म करने वाली पिछले महीने की संधि के लिए एक परीक्षा साबित होगी।

फलस्तीनी इस मार्च को उकसावे वाली हरकत मान रहे हैं। हमास ने फलस्तीनियों से इस मार्च का प्रतिरोध करने की अपील की है। संगीत की धुन के साथ सैकड़ों की संख्या में यहूदी राष्ट्रवादी दमिश्क गेट के सामने बढ़ने से पहले सैकड़ों मीटर तक एकत्र हुए। उनमे से कई के हाथों में इजराइली झंडे थे और वे नाच रहे थे तथा धार्मिक गीत गा रहे थे। हालांकि, इस बार की भीड़ पिछले महीने की परेड की तुलना में काफी कम नजर आई।


मार्च से पहले इजराइली पुलिस ने दमिश्क गेट के सामने के इलाके को खाली कराया, यातायात बंद कर दिया, दुकानों को बंद करने का आदेश दिया और युवा फलस्तीनी प्रदर्शनकारियों को वहां से भगा दिया। वहीं, फलस्तीनियों ने कहा कि छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है और पुलिस के साथ झड़पों में पांच लोग घायल हो गए।

इस परेड ने इस्राइल के नये प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट के लिए एक शुरुआती चुनौती पेश कर दी है। बेनेट एक कट्टरपंथी इजराइली राष्ट्रवादी हैं। 

इस्राइल गठबंधन में शामिल होने वाले अरब गुट के पहले राजनीतिक दल राम पार्टी के नेता मंसूर अब्बास ने कहा कि मार्च राजनीतिक लक्ष्यों के लिए क्षेत्र में आग लगाने की कोशिश है।



 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X