आपका शहर Close

शांति की अलख जगाता एक अमरीकी सैनिक

बीबीसी हिन्दी

Updated Sat, 27 Oct 2012 03:42 PM IST
stop rust says us soldier
एक रिपोर्ट के अनुसार विदेशों में युद्ध लड़ने के बाद वापस अपने देश अमरीका लौटने वाले औसतन 18 फौजी हर रोज़ आत्म हत्या कर रहे हैं। हजारों शारीरिक और मानसिक रूप से बेकार हो चुके हैं।
लेकिन कुछ फौजी ऐसे भी हैं जो मानसिक रोग से स्वस्थ होने के बाद विदेश में अमरीकी सैनिक कार्रवाईयों के खिलाफ मुहिम चला रहे हैं। 45 साल के डैरेल सोमालिया में चार साल युद्ध लड़ने के बाद अमरीका वापस लौटे और फ़ौज की नौकरी से इस्तीफा दे दिया।

अब वो युद्ध के खिलाफ अपनी आवाज़ उठा रहें हैं। अमरीकी प्रशासन के नाम सन्देश में डैरेल कहते हैं: "जंग बंद करो, दुनिया के दारोगा बनने की भूमिका छोड़ो।"

शांति का पैगाम
इस संदेश को लोगों तक पहुंचाने के लिए डैरेल हर रोज़ अमरीकी राष्ट्रपति निवास व्हाइट हाउस के ठीक सामने बैठ कर धरना देते हैं। डैरेल कहते हैं, "युद्ध के लिए हमें भेजने वाले अधिकारियों को अंदाज़ा नहीं है कि उस वक्त हम पर क्या गुज़रती है, जब गोलियां कान को छू कर निकल जाती हैं और बमों से हमारे साथियों की जान हमारी आँखों के सामने निकलती है, तो उस मंज़र को बयान नही किया जा सकता। उस भय को किसी हॉलीवुड की फिल्म में दिखाया नहीं जा सकता।"

लेकिन डैरेल अमरीकी सैनिकों की परेशानियों से कहीं ज्यादा चिंतित उन लोगों के लिए हैं जो मारे जाते हैं। डैरेल अफ़ग़ानिस्तान, इराक और दूसरे देशों में अमरीकी बमबारी के चलते मरने और विकलांग होने वाले लोगों की तस्वीरों के सामने खड़े हो जाते हैं।

वो कहते हैं। "अमरीका ग़रीब और तीसरी दुनिया के देशों में प्रजातंत्र लाने के नाम पर निहत्थे लोगों को मारता है और उसका अंजाम होता है हज़ारों लोगों की मौत। अमरीका को दुनिया का दरोगा बनने का कोई हक नहीं है।" डैरेल शान्ति के पक्ष और युद्ध के विरोध लड़ने वाली एक संस्था के लोगों से जुड़े हैं। वो पिछले 32 सालों से व्हाइट हाउस के सामने धरना दे रहे हैं।

'युद्ध एक धंधा है'
डैरेल का मानना हैं युद्ध अमरीका का एक बड़ा उद्योग है। वो कहते है, "हमारे कार्पोरेशन युद्ध को हवा देते हैं क्योंकि इससे हथियार बनाने वाली कम्पनियों को अरबों डॉलर का मुनाफा होता है। ये एक बड़ा उद्योग है और इसका असर प्रशासन से लेकर मीडिया के अन्दर तक है।"

अफ़ग़ानिस्तान में अब तक 2000 अमरीकी सैनिक मारे जा चुके हैं और इराक में इससे कहीं अधिक। लेकिन सवाल है कि क्या डैरेल और उनके साथियों के शांति के पैगाम को आम जनता सुन रही है?

जवाब में वो कहते हैं, ''मेहनत रंग ला रही है। हमारे पास स्कूली बच्चे आते हैं, पर्यटक आते हैं और जब वो हमारी बातें सुनते हैं तो वो कई तरह के सवाल करते हैं। जवाब सुन कर कहते हैं उन्हें प्रशासन ने अंधकार में रखा है।" डैरेल कहते हैं उनका काम है लोगों को युद्ध की बर्बादी के बारे में बताना और खून खराबे को ख़त्म करने की सलाह देना।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news, Crime all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

Comments

स्पॉटलाइट

महिलाओं के बारे में ऐसी कमाल की सोच रखते हैं अमिताभ बच्चन, जया और ऐश्वर्या भी जान लें

  • बुधवार, 13 दिसंबर 2017
  • +

UPTET Result 2017: 10 लाख युवाओं के लिए सरकार का बड़ा ऐलान, इस दिन जारी होंगे नतीजे

  • बुधवार, 13 दिसंबर 2017
  • +

Bigg Boss 11: वीकेंड पर सलमान पलट देंगे पूरा गेम, विनर कंटेस्टेंट को बाहर निकाल लव को करेंगे सेफ

  • बुधवार, 13 दिसंबर 2017
  • +

Bigg Boss 11: घर में Kiss पर मचा बवाल, 150 कैमरों के सामने आकाश ने पार की बेशर्मी की हदें

  • बुधवार, 13 दिसंबर 2017
  • +

कंडोम कंपनी ने विराट-अनुष्का के लिए भेजा खास मैसेज, जानकर शर्मा जाएंगे नए नवेले दूल्हा-दुल्हन

  • बुधवार, 13 दिसंबर 2017
  • +

Most Read

न्यूयॉर्क हमला: संदिग्ध ने ट्रंप को फेसबुक पर था चेताया, बोला- देश को बचाने में रहे नाकामयाब

US bombing suspect Akayed Ullah warned Trump on Facebook
  • बुधवार, 13 दिसंबर 2017
  • +

अमेरिकियों ने माना, डोनाल्ड ट्रंप के शासन में और भी बढ़ गया भ्रष्टाचार

 american says in trump administration corruptions is raised
  • बुधवार, 13 दिसंबर 2017
  • +

अमेरिकाः न्यूयॉर्क में टाइम्स स्‍क्वायर के पास धमाका, एक संदिग्ध गिरफ्तार

America: Exlposion near New York's manhttan bus terminal
  • सोमवार, 11 दिसंबर 2017
  • +

साल 2020 तक दुनिया की आधी बिजली खा जाएगा बिटक्वाइन 

Bitcoin will consume half electricity of the world by 2020 says Experts 
  • शनिवार, 9 दिसंबर 2017
  • +

एक बार फिर चांद पर जाने को तैयार अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री

American astronaut ready to go to the moon again
  • बुधवार, 13 दिसंबर 2017
  • +

महिला सांसदों ने राष्ट्रपति ट्रंप के यौन दुर्व्यवहार के जांच की मांग उठाई

US female MPs wants probe of sexual harassment cases which allege raised against trump
  • बुधवार, 13 दिसंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!