दुनिया देखेगी योग का जलवा, रियो ओलंपिक में होगी अनोखी प्रस्तुति

हेमंत रस्तोगी/ अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Mon, 18 Apr 2016 05:06 AM IST
Rio Olympics
विज्ञापन
ख़बर सुनें
भारत सरकार ने योग का परचम दुनिया भर में लहराने के लिए पांच अगस्त से होने जा रहे रियो ओलंपिक के मंच को चुना है। ऐसा नहीं है कि योग को ओलंपिक खेलों में शामिल करा दिया गया है लेकिन सरकार ने रियो ओलंपिक के उद्घाटन या फिर समापन समारोह में योग और कबड्डी पर अनोखी प्रस्तुति देने को कमर जरूर कस ली है।
विज्ञापन


इंटरनेशनल ओलंपिक कमेटी (आईओसी) और रियो ओलंपिक आर्गेनाइजिंग कमेटी ने अगर भारत सरकार के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया तो खेलों के महाकुंभ की शुरुआत या अंत में दुनिया योग का जलवा देखेगी।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एजेंडे में योग शुरू से ही है। बीते वर्ष 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस घोषित कराना मोदी सरकार की विजय माना जा रहा है। अब योग की अंतरराष्ट्रीय पहचान को और पुख्ता करने के लिए सरकार को रियो ओलंपिक से बेहतर कोई दूसरा मंच नहीं लग रहा।

ओलंपिक में योग पर प्रस्तुति दिलवाने की जिम्मेदारी सरकार ने इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (आईओए) को सौंपी है। खेल मंत्रालय ने आईओए से कहा है कि सरकार योग और कबड्डी पर चार से पांच मिनट की अनोखी प्रस्तुति चाहती है।

सरकार के इस प्रस्ताव पर आईओए, आईओसी और ओलंपिक आर्गेनाइजिंग कमेटी से बात करे। मंत्रालय ने आईओए को इस संबंध में आईओसी के डायरेक्टर जनरल क्रिस्टोफर डि कैपर से बात करने का निर्देश दिया है।

दरअसल सरकार सीधे तौर पर आईओसी से बात नहीं कर सकती है, इसलिए यह जिम्मेदारी आईओए को सौंपी गई है। यही नहीं ब्राजील स्थित भारतीय दूतावास भी आर्गेनाइजिंग कमेटी और ब्राजील सरकार से इस संबंध में बात कर रहा है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

अब तक के संकेत सकारात्मक

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Sports news in Hindi related to live update of Sports News, live scores and more cricket news etc. Stay updated with us for all breaking news from Sports and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00