भगोड़ा घोषित हरेंद्र का कोर्ट में सरेंडर

शाहजहांपुर Updated Mon, 01 Dec 2014 07:43 PM IST
harendra surrendra in court
ख़बर सुनें
कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय कांट की टीचर नेहा पाल के आत्महत्या के बहुचर्चित मामले में एक आरोपी हरेंद्र सिंह ने सीजेएम कोर्ट में सोमवार को सरेंडर कर दिया। उसके सरेंडर करने की वजह पुलिस द्वारा की जा रही उसकी संपत्ति की कुर्की करने की तैयारी को माना जा रहा है। वहीं, दूसरी आरोपी शिखा भारती अब भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है।
सोमवार को खचाखच भरी अदालत में साढे़ 12 बजे के बाद हरेंद्र सीजेएम कोर्ट में सरेंडर करने के लिए पहुंच गया। इससे पहले पुलिस को भी इसकी भनक नहीं लग सकी। सरेंडर करने के 15 मिनट के बाद पुलिस ने उसे लॉकअप में भेज दिया, जिससे कोई वाद-विवाद न हो।
कांट के पड़ैंचा स्थित कस्तूरबा विद्यालय की टीचर नेहा पाल के 23 जुलाई को हुई आत्महत्या के मामले में नेहा ने एक सुसाइड नोट लिखा था, जिसमें नेहा ने अपनी मौत का जिम्मेदार शिखा और हरेंद्र को बताया था। नेहा पाल के पिता ने अदालत से दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की थी। इस पर अदालत ने करीब 18 दिन पहले दोनों के खिलाफ गैरजमानती वारंट जारी किया था। बावजूद इसके पुलिस न तो उन लोगों को पकड़ सकी और न ही दोनों में से किसी ने कोर्ट में सरेंडर किया।  
केस के विवेचक सीओ सिटी राजेश्वर सिंह ने गिरफ्तारी का दबाव बनाने के लिए शिखा भारती और हरेंद्र सिंह की संपत्ति को कुर्क करने को प्रार्थना-पत्र दिया था, जिस पर सीजेएम ने गैर जमानती वारंट जारी किया था। बाद में अदालत से उन दोनों के फरार होने की घोषणा कर दी थी। इसके बाद दोनों की संपत्ति की कुर्की की जा सकती थी। इसी दबाव के चलते सोमवार को हरेंद्र सिंह ने अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया।

Spotlight

Most Read

City and States Archives

सीबीआई ने विधायक के तीन करीबियों से की पूछताछ

-एक जनप्रतिनिधि व दो खासमखास को मुख्यालय बुलाकर किए सवाल -तीन पुलिस कर्मियों से भी सीबीआई ने मुकदमे की ली जानकारी -करीबियों से पूछताछ के बाद मची खलबली

23 मई 2018

City and States Archives

chitrkoot

29 अप्रैल 2018

Related Videos

मुरादाबाद में स्वच्छता अभियान का 'आतंक', जेब में रखवाया मल

मुरादाबाद से इंसानियत को शर्मसार करने वाली खबर है।

15 जनवरी 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen