बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन

Cyclone Tauktae Live: नौसेना-तटरक्षक बलों ने दो बजरों से 317 लोगों को बचाया, 390 अभी भी लापता

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: Amit Mandal Updated Tue, 18 May 2021 11:20 PM IST
Cyclone Tauktae Live IMD Rain Alert Cyclone Live Tracking and Weather Updates of Maharashtra Gujarat Daman Diu Goa
बचाव कार्य में लगा तटरक्षक बल का चेतक हेलिकॉप्टर - फोटो : एएनआई

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

खास बातें

भीषण चक्रवाती तूफान ताउते सोमवार रात में गुजरात के सौराष्ट्र तट से टकराया और इस दौरान हवा 185 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से चली। इससे पहले, चक्रवात के कारण मुंबई में भारी वर्षा हुई और गुजरात में दो लाख से अधिक लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाना पड़ा। इधर गृह मंत्री अमित शाह ने राजस्थान, गुजरात और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्रियों से बात की और स्थिति का जायजा लिया। ताउते से संबंधित सभी अपडेट्स यहां पढ़िए...
विज्ञापन

लाइव अपडेट

विज्ञापन
10:38 PM, 18-May-2021

नौसेना, तटरक्षक बलों ने दो बजरों से 317 लोगों को बचाया

खराब मौसम से जूझते हुए, भारतीय नौसेना और तटरक्षक बलों ने मुंबई के पास अरब सागर में फंस गए दो बजरों पर मौजूद 317 लोगों को बचा लिया है। लेकिन, 390 और लोग अब भी लापता हैं। ये दो बजरे चक्रवात ताउते के गुजरात तट से टकराने से कुछ घंटे पहले मुंबई के पास अरब सागर में फंस गए थे। 

09:38 PM, 18-May-2021

गुजरात और दीव का दौरा करेंगे पीएम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को गुजरात और दीव का दौरा करेंगे। इस दौरान वह व्यक्तिगत रूप से स्थिति और चक्रवाती तूफान ताउते की वजह से हुए नुकसान की समीक्षा करेंगे। यह जानकारी सरकारी सूत्रों ने दी। 
09:16 PM, 18-May-2021

तीन घंटे में कमजोर पड़ने की संभावना

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने मंगलवार की शाम को बताया कि चक्रवाती तूफान गुजरात के ऊपर से गुजर गया है। यह दीसा (गुजरात) से लगभग 120 किमी दक्षिण-दक्षिण पूर्व और अहमदाबाद से 35 किमी पश्चिम और सुरेंद्रनगर (गुजरात) से 80 किमी पूर्व-उत्तर पूर्व में है। आईएमडी ने कहा कि इसके तीन घंटे के भीतर कमजोर होकर डीप डिप्रेशन में बदलने की संभावना है।
08:18 PM, 18-May-2021

जारी है बचाव अभियान

मुंबई तट से चक्रवात के टकराने के बाद गहरे समुद्र में तेल रिग (तेल या गैस उत्खनन क्षेत्र) और बजरों (एक प्रकार की संरचना) में फंस गए 500 से अधिक लोगों को निकालने के लिए सोमवार को नौसेना के जहाज, टग बोट (खींचने वाली नौका) और बचाव जहाज लगाये गए थे। बचाव काम अभी भी जारी है। चक्रवात की वजह से एक बजरा डूब गया जिसमें अपतटीय क्षेत्र में कार्यरत कर्मियों के लिए क्वार्टर थे। दो अन्य बजरे के लंगर से हटकर समुद्र में दूर चले गए। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि जब चक्रवात आया तब इन तीन बजरों में 599 कर्मी थे। ओएनजीसी का ‘सागर भूषण’ नामक एक ड्रिलिंग रिग भी अपने स्थान से दूर चला गया। उसमें ओएनजीसी के 37 कर्मी और 64 अनुबंधित कर्मी सवार थे।

भारतीय नौसेना के जहाज- आईएनएस कोच्चि एवं आईएनएस कोलकाता तथा तटरक्षक बल के जहाज आईसीजी समर्थ, एफकॉन की टग नौका, अपतटीय आपूर्ति जहाज भी बजरों एवं रिग में फंसे लोगों को बचाने के लिए लगाए गए हैं। सूत्रों ने बताया कि चक्रवात से बुरी तरह प्रभावित बजरा ‘पापा-305’ के 261 लोगों में से 182 को अबतक बचा लिया गया है। बाकी का पता लगाया जा रहा है और उन्हें बचाने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि बजरा ‘गल कंस्ट्रक्टर’ कोलाबा प्वाइंट से करीब 48 नौटिकल मील चला गया था और उसपर तैनात सभी 137 लोग सुरक्षित हैं। बजरा ‘सपोर्ट स्टेशन-3’ पर 201 लोग सवार थे और वह उत्तर-पश्चिम दिशा में जा रहा है। इन्हें सुरक्षित लाने का अभियान जारी है।
07:52 PM, 18-May-2021

नौसेना ने तूफान में फंसे बजरों में मौजूद 314 लोगों को बचाया

भारतीय नौसेना ‘ताउते’ चक्रवात के कारण मुंबई के निकट अरब सागर में फंसे दो बजरों में मौजूद 314 लोगों को बचा चुकी है। नौसेना के अधिकारी ने कहा कि 707 कर्मियों को ले जा रहे तीन बजरे और एक ऑयल रिग सोमवार समुद्र में फंस गया था। इनमें 273 लोगों को ले जा रहा 'पी305' बजरा, 137 कर्मियों को ले जा रहा 'गल कंस्ट्रक्टर' और एसएस-3 बजरा शामिल है, जिसमें 196 कर्मी मौजूद थे। साथ ही 'सागर भूषण' ऑयल रिग भी समुद्र में फंस गया था, जिसमें 101 कर्मी मौजूद थे। ‘गल कन्स्ट्रक्टर’ में मौजूद 137 जबकि पी305 में मौजूद 273 में से 177 लोगों को बचा लिया गया है। एसएस-3 और सागर भूषण ऑयल रिग के लिये चलाए जा रहे बचाव अभियान के बारे में अभी कोई जानकारी नहीं मिली है।
06:36 PM, 18-May-2021

मुंबई में तीन, ठाणे और पालघर में पांच लोगों की मौत

चक्रवात ताउते के मुंबई के तट के करीब से गुजरने की वजह से शहर में पिछले 24 घंटे में तीन लोगों की मौत हो गई और 10 अन्य घायल हो गए। वहीं पड़ोसी ठाणे और पालघर जिले में चक्रवात से संबंधित अलग-अलग घटनाओं में पांच लोगों की मौत हो गई। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।
06:20 PM, 18-May-2021

तटरक्षक बल ने दो तेल टैंकर जहाजों की मदद की

भारतीय तटरक्षक बल (आईसीजी) ने मंगलवार को चक्रवात ताउते के कारण खराब मौसम के बीच मुंबई तट के पास भटके दो तेल टैंकर जहाजों को किनारे लाने में मदद की। आईसीजी ने एक ट्वीट में कहा, 'बड़े तेल रिसाव का जोखिम टल गया। एमटी देशभक्त और ओएसवी ग्रेटशिप अदिति मुंबई में एसपीएम (सिंगल पॉइंट मूरिंग) अभियान में लगे हुए थे, खराब मौसम के कारण दिशाहीन हो गए। एमआरसीसी (समुद्री बचाव समन्वय केंद्र) मुंबई ने दोनों जहाजों के साथ समन्वय स्थापित किया। संचालन बहाल किया गया और दोनों जहाजों पर सवार चालक दल के कुल 45 सदस्य सुरक्षित हैं।' एक अन्य ट्वीट में आईसीजी ने कहा कि उसके गोताखोरों ने गुजरात के गिर सोमनाथ जिले में वेरावल तट से आठ मछुआरों को संकट से बचाया।

05:45 PM, 18-May-2021

महाराष्ट्र: रायगढ़ में ‘निसर्ग’ के बाद, इस साल ‘ताउते’ का कहर

महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में लगातार दूसरे साल प्रकृति का कहर देखने को मिला, जहां चक्रवाती तूफान ‘ताउते’ के कारण हुई अलग-अलग घटनाओं में चार लोगों की मौत हो गई और कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए। मुंबई से 100 किलोमीटर दूर स्थिति तटीय जिले में पिछले साल भी चक्रवातीय तूफान ‘निसर्ग’ का कहर बरपा था। अधिकारियों ने बताया कि उरण और रोहा गांव में पेड़ और दीवार गिरने से सोमवार को चार लोगों की मौत हो गई। उन्होंने बताया कि रायगढ़ जिले के 2299 परिवारों के कुल 8383 लोगों को सोमवार रात तक सुरक्षित स्थानों पर भी पहुंचाया गया था। सोमवार को भारी बारिश के कारण कई इलाकों में पानी भर गया और तेज हवाएं तथा बारिश की वजह से बिजली भी चली गई थी।
05:22 PM, 18-May-2021

गेटवे ऑफ इंडिया के पास की दीवार और फुटपाथ क्षतिग्रस्त

चक्रवात तूफान ताउते ने ऐतिहासिक 'गेटवे ऑफ इंडिया' को सुरक्षा देने वाली दीवारों और लोहे की छड़ों को नुकसान पहुंचाया और पास में लगे कुछ बैसाल्ट पत्थर भी तूफान के प्रभाव की वजह से उखड़ गए। महानगरपालिका के अधिकारियों ने बताया कि हालांकि ताउते की वजह से इस ऐतिहासिक इमारत को कोई क्षति नहीं पहुंची है लेकिन इसके निकट का फुटपाथ धंस गया। उन्होंने बताया कि सोमवार को मुंबई तट से गुजरे इस तूफान की वजह से अरब सागर से ऊंची-ऊंची लहरें उठ रही थीं और ये लहरें अपने साथ कचरे का अंबार लेकर आईं जो वह इस ऐतिहासिक स्थल पर छोड़ गईं।
05:14 PM, 18-May-2021

गल कन्स्ट्रक्टर के सभी 137 क्रू सदस्य बचाए गए

गल कन्सट्रक्टर के सभी 137 क्रू सदस्यों को तटरक्षक बल ने बचा लिया है। बल ने बताया कि सभी लोग बचा लिए गए हैं, कोई छूटा नहीं है। बता दें कि इन लोगों को एयरलिफ्ट करने के लिए तटरक्षक बल ने दवन से दो चेतक हेलिकॉप्टर लगाए थे।
04:43 PM, 18-May-2021

गुजरात: मुख्यमंत्री ने आपात संचालन केंद्र से स्थिति की निगरानी की

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी चक्रवात ‘ताउते’ के राज्य की ओर तेजी से बढ़ने के मद्देनजर पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य आपात संचालन केंद्र (एसईओसी) में ही रुके रहे। मंगलवार को जारी एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार सोमवार सुबह जब चक्रवात गुजरात के तट से टकराया तब रूपाणी स्थिति की निगरानी और प्रशासन के मार्गदर्शन के लिए गांधीनगर में केंद्रीय नियंत्रण कक्ष एसईओसी पहुंचे। वह सोमवार मध्यरात्रि तक नियंत्रण कक्ष में ही थे और प्रभावित जिलों के जिलाधिकारियों तथा क्षेत्र अधिकारियों के साथ डिजिटल बैठकें और टेलीफोन से बातचीत करते रहे। रूपाणी मंगलवार सुबह फिर एसईओसी पहुंचे और वहां करीब तीन घंटा रुके। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की और मौजूदा स्थिति तथा चक्रवात के कारण हुई क्षति के बारे में जानकारी ली।

04:35 PM, 18-May-2021

तटरक्षकों ने समुद्र में फंसे 16 लोगों को बचाया

भारतीय तटरक्षकों ने ताउते चक्रवात के चलते गुजरात के वेरावल बंदरगाह के निकट समुद्र में फंसी मतस्य नौका में सवार आठ मछुआरों को मंगलवार को बचा लिया। इसके अलावा तटरक्षक बल के दो चेतक हेलीकॉप्टरों ने बेहद खराब मौसम के बीच (पड़ोसी महाराष्ट्र) के सतपति तट के निकट समुद्र में फंसे 'गल कंस्ट्रक्टर' जहाज के चालक दल के आठ सदस्यों को भी बचा लिया। गुजरात के एक रक्षा प्रवक्ता द्वारा जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि मछुआरों के फंसे होने की सूचना मिलने का बाद तटरक्षक गोताखोर अपनी बचाव नौका के साथ वहां पहुंचे और मछुआरों को तट पर सुरक्षित वापस ले आए।

02:45 PM, 18-May-2021

सेना के जवानों ने सड़क पर गिरे पेड़ों को हटाया

गुजरात के सोमनाथ जिले और केंद्र शासित प्रदेश दीव के बीच की सड़क पर जो पेड़ गिरने की वजह से रुक गई थी, उसे सेना के जवानों ने वाहनों की आवाजाही के लिए साफ कर दिया है।
02:24 PM, 18-May-2021

गुजरात: तेज हवाएं चलने से बिजली के खंभे, मोबाइल टावर गिरे

राज्य आपात अभियान केन्द्र (एसईओसी) के एक अधिकारी ने बताया कि भीषण बारिश और तेज हवाओं के कारण अलग-अलग स्थानों पर दीवारें गिरने से तीन लोगों की मौत हुई। मृतकों में राजकोट, वलसाड और भावनगर का एक-एक व्यक्ति शामिल है। तीनों जिले राज्य में चक्रवती तूफान से सर्वाधिक प्रभावित जिलों में से हैं। गुजरात में कई तटीय इलाकों में बिजली नदारद रही। वहीं, तेज हवाएं चलने के कारण कई पेड़, बिजली के खंभे और मोबाइल टावर भी गिर गए।
01:27 PM, 18-May-2021

अहमदाबाद के पश्चिम में 50-60 किमी की ओर जाएगा ताउते

अहमदाबाद के एमईटी की प्रभारी निदेशक मनोरमा मोहांती ने जानकारी दी कि ताउते अब गंभीर चक्रवाती तूफान की श्रेणी से हटकर चक्रवाती तूफान की श्रेणी में आ गया है। ताउते अब अहमदाबाद के पश्चिम में 50-60 किमी की ओर जाएगा। हवाओं की रफ्तार 45-55 किमी प्रति घंटा हो जाएगी। उन्होंने आगे बताया कि भावनगर, सुरेंद्रनगर, अमरेली और राजकोट के कई इलाकों में भारी बारिश की संभावना है। उन्होंने कहा कि अब ताउते कमजोर हो रहा है और आगे भी कमजोर होगा। 
 
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us