चारा घोटाला: लालू यादव को साढ़े तीन साल की सजा और 10 लाख का जुर्माना

एजेंसी, रांची Updated Sat, 06 Jan 2018 07:04 PM IST
fodder scam: lalu prasad yadav in ranchi CBI court Sentence
आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव
राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को बहुचर्चित चारा घोटाले में 21 साल पहले देवघर ट्रेजरी से 89.27 लाख रुपये की अवैध निकासी के मामले में शनिवार को साढ़े तीन साल की सजा सुनाई गई है। उन पर दस लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है। यहां बिरसा मुंडा जेल में बंद लालू को सजा का ऐलान वीडियो कांफ्रेंस के जरिए किया गया। चार साल में यह दूसरी बार है जब उन्हें चारा घोटाले में सजा हुई है। 

रांची की विशेष सीबीआई अदालत ने उन्हें आईपीसी के तहत धोखाधड़ी एवं आपराधिक साजिश और भ्रष्टाचार निवारण कानून के दो मामलों में 23 दिसंबर को दोषी ठहराया था। इन दोनों मामलों में उन्हें साढ़े तीन-तीन साल की सजा सुनाई गई है। दोनों सजाएं साथ-साथ चलेंगी। इन दोनों मामलों में उन पर पांच-पांच लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है। जुर्माना नहीं भरने पर और छह महीने की सजा काटनी होगी। मालूम हो कि 950 करोड़ रुपये के चारा घोटाले में चाईबासा ट्रेजरी से 37.5 करोड़ रुपये की अवैध निकासी में लालू को 30 सितंबर, 2013 को पांच साल की सजा सुनाई गई थी। लगभग ढाई महीने जेल में रहने के बाद उन्हें सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिली थी।

विशेष अदालत ने शुक्रवार को लालू समेत 11 दोषियों की सजा पर दोनों पक्षों की दलील सुनी थी, जबकि बाकी पांच दोषियों की सजा को लेकर शनिवार को बहस पूरी हुई। उसके बाद सभी को सजा सुनाई गई। इस मामले में बिहार के पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्र समेत छह लोगों को कोर्ट ने 23 दिसंबर को बरी कर दिया था। इस बीच, पटना में लालू के बेटे तेजस्वी प्रसाद ने कहा कि फैसले का अध्ययन करने के बाद सजा के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील की जाएगी और जमानत की भी अर्जी दाखिल की जाएगी। 

लालू पर आरोप
चारा घोटाले की जांच के लिए उनके पास भेजी गई फाइल को पद का दुरुपयोग करते हुए उन्होंने 5 जुलाई 1994 से 1 फरवरी 1996 तक अपने पास रोके रखा और जब यह घोटाला उजागर हो गया तो 2 फरवरी को जांच का आदेश दिया।

इन्हें भी हुई साढ़े तीन-तीन साल की सजा
पूर्व सांसद आरके राणा, पूर्व आईएएस अधिकारी बेक जुलियस, महेश प्रसाद और फूलचंद सिंह, राज्य सरकार के अधिकारी कृष्ण कुमार और सुबीर भट्टाचार्य एवं सप्लायर/ट्रांसपोर्टर सुशील कुमार सिन्हा, सुनील कुमार सिन्हा, राजाराम जोशी

इन्हें मिली सात साल की सजा
पूर्व सांसद जगदीश शर्मा, सप्लायर/ट्रांसपोर्टर त्रिपुरारी मोहन प्रसाद, सुनील गांधी, गोपीनाथ दास, संजय अग्रवाल और ज्याति कुमार झा

भाजपा के आगे नहीं झुकूंगा
सजा के ऐलान के बाद लालू ने ट्विट किया, ‘सामाजिक न्याय के लिए संघर्ष में जान दे दूंगा लेकिन भाजपा के आगे नहीं झुकूंगा।’

तेजस्वी के बोल
लालू को झूठे केस में फंसाया गया है। उन्हें भाजपा परेशान कर रही है, लेकिन हम उसकी साजिश से डरने और झुकने वाले नहीं हैं। हमें कोर्ट पर पूरा भरोसा है। 
आगे पढ़ें

जानें क्या है 'चारा घोटाला' जिसमें फंसे लालू

Spotlight

Most Read

Chandigarh

पंजाब: कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने दिया इस्तीफा

पंजाब के कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। राणा गुरजीत ऊर्जा एवं सिंचाई विभाग के मंत्री थे।

16 जनवरी 2018

Related Videos

ओडिशा के इस ‘दशरथ मांझी’ ने बच्चों के लिए बनाई 8 किमी. लंबी सड़क

ओडिशा के कंधमाल में रहनेवाले जालंधर नायक ने अपने बच्चों के लिए अकेले ही आठ किलोमीटर लंबी सड़क तैयार कर दी। जालंधर के बच्चे इलाके में सड़क न होने की वजह से जंगल के रास्ते स्कूल नहीं जा पाते थे।

15 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper