लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Jharkhand ›   A debt-ridden family of 6 allegedly committed suicide last night in Hazaribagh

हजारीबाग में बुराड़ी जैसी घटना, कर्ज के चलते एक ही परिवार के 6 लोगों ने की आत्महत्या

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हजारीबाग Updated Sun, 15 Jul 2018 05:10 PM IST
suicide
suicide
विज्ञापन
ख़बर सुनें

झारखंड के हजारीबाग में दिल्ली के बुराड़ी जैसी घटना सामने आयी है। यहां एक ही परिवार के 6 लोगों ने आत्महत्या कर ली है। घटना ने इलाके के लोगों को हिला कर रख दिया है। जानकारी के मुताबिक परिवार कर्ज से परेशान था। परिवार में कुल 6 सदस्य थे इनमें 2 लोगों ने फांसी के फंदे पर लटक कर जान दे दी, 1 बच्चे की धारदार हथियार से हत्या कर दी जबकि 1 बच्ची को जहर देकर मारा गया। एक महिला को गला दबाकर मार दिया गया तो एक ने छत से कूदकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। फिलहाल पुलिस मामले में जांच कर रही है। 



पुलिस ने दो सुसाइड नोट बरामद किए हैं। जिन पर लिखा है कि अमन को लटका नहीं सकते थे, इसलिए उसकी हत्या कर दी गयी। नीचे लिखा है कि बीमारी प्लस दुकान बंद प्लस दुकानदारों का बकाया न देना, प्लस बदनामी, प्लस कर्ज , जिसके बाद तनाव और फिर मौत। यह मामला हजारीबाग के खजांची तालाब के निकट सीडीएम अपार्टमेंट का है। जांच में यह मामला आत्महत्या का माना जा रहा है। लेकिन पुलिस हत्या की आशंका से भी इंकार नहीं कर रही है। 

 




बता दें कि दिल्ली में बुराड़ी के संत नगर में एक ही परिवार के 11 लोगों के शव संदिग्ध हालत में मिले थे। इनमें कई लोगों के हाथ पैर तो कुछ लोगों के आंखों पर पट्टी बंधी हुई थी। जानकारी के मुताबिक पूरा परिवार बहुत धार्मिक था, इनमें कभी तकरार सुनने को नहीं मिली। एक पड़ोसी महिला के अनुसार परिवार का मुखिया ललित पिछले 5 साल से मौन धारण किया हुआ था। हालांकि इसका कारण नहीं पता चल पाया है।


परिवार मूलतः राजस्थान से ताल्लुक रखता था। वह इस इलाके में पिछले 22-23 सालों से रहे रहे थे। परिवार के लोगों की दूध और प्लाईवुड की दुकान थी। साथ में एक किराने की एक दुकान भी थी। पुलिस ने बताया कि 11 लोगो के परिवार में दो भाई और उनकी पत्नियां थीं। दो लड़के करीब 16 से 17 साल के थे। मृतकों में एक बुजुर्ग मां और बहनें शामिल हैं।

मृतकों में एक बुजुर्ग महिला, उनके 2 बेटे ललित और भूपी, उनकी पत्नियां, 5 बच्चे, 1 बुजुर्ग महिला की बेटी शामिल हैं। इनमें 10 शव जाल के फंदे में लटके मिले जबकि एक बुजुर्ग महिला का शव फर्स्ट फ्लोर पर मिला। पुलिस जांच में घर से 11 डायरियां मिली हैं, जिसमें मोक्ष प्राप्त करने की विधि के बारे में लिखा हुआ है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आया कि सभी की मौत गले में फांसी का फंदा लगने से हुई थी। दिल्ली पुलिस इस घटना को तंत्र-मंत्र से जोड़कर भी तफ्तीश कर रही है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00