कंधार हाईजैक मामले के दोषी मोमिन की अपील पर सुनवाई करेगा SC

amarujala.com, Presented By : मुकेश झा Updated Fri, 21 Apr 2017 03:09 PM IST
Convict Abdul Momin challenges life term in Supreme Court in IC 814 hijacking case
आईसी-814 केस - फोटो : it
अब्दुल लतीफ एडम मोमिन उर्फ अब्दुल रहमान को 1999 के आईसी 814 के हाईजैकिंग मामले में दोषी पाया गया था। इस मामले में अब्दुल ने पंजाब और हरियाणा कोर्ट द्वारा आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी। मोमिन को फांसी की सजा दिलवाने की मांग के लिए सीबीआई ने हाई कोर्ट में अपील दायर की थी। जिसके बाद पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने सीबीआई की अपील खारिज करते हुए मोमिन को उम्र कैद की सजा को बरकरार रखा था। जिसके बाद दोषी ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दिया है।
हालांकि, सुप्रीम कोर्ट की जस्टीस पिनाकी चंद्र घोष की अध्यक्षता वाली पीठ और जस्टीस रोहिंटन फली नरीमन ने इस मामले की सुनवाई जुलाई में करने पर सहमति जताई है।

गौरतलब है कि 24 दिसम्बर, 1999 को पांच पाकिस्तानी आतंकवादियों ने एयर इंडिया के एक विमान का अपहरण कर लिया था और उसे कंधार ले जाने से पहले अमृतसर, लाहौर और दुबई के तीन अलग हवाईअड्डों पर उतारने का दबाव बनाया था। उस वक्त उड़ान संख्या आईसी-814 में 176 यात्री सवार थे। दुबई में अपहर्ताओं ने विमान में सवार रुपिन कत्याल नाम के यात्री की चाकूओं से गोदकर हत्या कर दी थी। बंधकों को मुक्त कराने के लिए आतंकवादियों की रिहाई की गई थी। विमान को एक सप्ताह तक कंधार में खड़े रहना पड़ा था।     

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

India News

अरुणाचल में मिला रहस्यमयी चीनी इंस्ट्रूमेंट, दहशत में लोग

अरुणाचल के कामले जिले में एक रहस्यमयी उपकरण मिलने से सनसनी मच गई।

24 फरवरी 2018

Related Videos

तमिलनाडु में ‘अम्मा’ के इस सपने को सच किया पीएम मोदी ने

तमिलनाडु में सरकार दोपहिया वाहन खरीदने के लिए कामकाजी महिलाओं को 50 फीसदी सब्सिडी देने जा रही है। राज्य की एआईएडीएमके सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं में शुमार इस योजना का आगाज शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों चेन्नई में होना है।

24 फरवरी 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen