लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   Maharashtra ›   13th anniversary of Mumbai attack: President Ramnath Kovind paid tribute and says the nation will always be grateful to the security forces for their sacrifice

मुंबई हमला : राष्ट्रपति कोविंद ने 13वीं बरसी पर शहीदों को दी श्रद्धांजलि, कहा- सुरक्षाबलों के बलिदान के लिए राष्ट्र हमेशा उनका आभारी रहेगा

एजेंसी, मुंबई Published by: Kuldeep Singh Updated Sat, 27 Nov 2021 03:12 AM IST
सार

महाराष्ट्र के मुंबई में 26 नवंबर, 2008 में हुए भयावह आतंकी हमले की 13वीं बरसी पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर कहा, कर्तव्य के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले सुरक्षाबलों की बहादुरी और बलिदान के लिए राष्ट्र हमेशा उनका आभारी रहेगा।  गृहमंत्री शाह समेत कई नेताओं और दिग्गजों ने शहीदों और पीड़ितों को श्रद्धांजलि दी।

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद
राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद - फोटो : ANI
ख़बर सुनें

विस्तार

महाराष्ट्र के मुंबई में 26 नवंबर, 2008 में हुए भयावह आतंकी हमले की13वीं बरसी पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर कहा, 26/11 मुंबई आतंकी हमले के शहीदों और पीड़ितों को मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि। कर्तव्य के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले सुरक्षाबलों की बहादुरी और बलिदान के लिए राष्ट्र हमेशा उनका आभारी रहेगा।  



26/11 मुंबई आतंकी हमले की13वीं बरसी पर गृहमंत्री शाह समेत कई नेताओं और दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि 
गृहमंत्री शाह ने अपने ट्वीट में कहा, आपकी बहादुरी पर पूरे देश को गर्व है और आपके बलिदान को हमेशा याद रखा जाएगा। वहीं, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है, हम उन बेकसूर लोगों को याद कर रहे हैं, जिन्हें हमने खो दिया है। उन हमलों में जान गंवाने वाले सभी लोगों को मेरी श्रद्धांजलि। हमारे सुरक्षा बलों ने अनुकरणीय साहस का परिचय दिया है।


मैं उनकी बहादुरी और बलिदान को सलाम करता हूं। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने हमले के समय की तस्वीर शेयर करते हुए अपने ट्वीट के कैप्शन में लिखा है, कभी नहीं भूलेंगे। वहीं, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी शहीदों को याद किया और एक दो मिनट का विडियो साझा कर उन्हें अपनी श्रद्धांजलि दी।  

इधर, महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी, उपमुख्यमंत्री अजित पवार और गृहमंत्री दिलीप वालसे पाटिल ने पुलिस मुख्यालय स्थित ‘शहीद स्मारक’ पर श्रद्धांजलि अर्पित की।

पाकिस्तान से आए थे आतंकी
26 नवंबर, 2008 को पाकिस्तान से लश्कर-ए-ताइबा के दस आतंकी समुद्री मार्ग से मुंबई में घुसे थे। शहर में घुसते ही आतंकियों ने अंधाधुंध फायरिंग की जिसमें 18 सुरक्षाकर्मियों के साथ ही 166 लोगों की मौत हो गई थी। इस दौरान करीब 60 घंटे तक मुंबई बंधक बनी रही। इसमें नौ आतंकी मारे गए थे और एक आतंकी अजमल कसाब जिंदा पकड़ा गया था जिसे 21 नवंबर, 2012 को फांसी दी गई।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00