विज्ञापन
विज्ञापन

छात्र ने फांसी लगाकर जान दी

ब्यूरो अमर उजाला, बांदा Updated Sat, 21 Jan 2017 11:22 PM IST
नरेंद्र (फाइल फोटो)
नरेंद्र (फाइल फोटो) - फोटो : amarujala
ख़बर सुनें
कोटा (राजस्थान) में सीपीएमटी की कोचिंग कर रहे छात्र ने शुक्रवार रात घर में फांसी लगाकर जान दे दी। शाम को ही वह कोटा से घर आया था। इकलौते पुत्र की मौत से घर में कोहराम मचा है। घर वाले घटना की वजह नहीं बता सके। कोई सुसाइड नोट भी नहीं मिला। पिता के मुताबिक सीपीएमटी परीक्षा में दो बार असफल होने के बाद से वह हताश था। शायद इसी हताशा में उसने जान दे दी।
विज्ञापन
चिल्ला थाना क्षेत्र के गुगौली गांव निवासी शिव प्रसाद प्रजापति शहर के शांति नगर मोहल्ले में मकान बनाकर रहते हैं। वह सीमावर्ती महोबा जिले के तिंदुही आयुर्वेदिक चिकित्सालय में फार्मासिस्ट हैं। शुक्रवार रात उनके पुत्र नरेंद्र कुमार (21) ने घर के ऊपरी मंजिल के कमरे में हुक के सहारे फांसी लगा ली। पुलिस ने शव फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

पिता ने बताया कि नरेंद्र ने वर्ष 2013 में सेंट मैरीज सीनियर सेकेंडरी स्कूल से इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की थी। इसके बाद सीपीएमटी की तैयारी करने लगा। पहले एक साल कानपुर में कोचिंग की और दूसरे साल कोटा चला गया। 5 मई 2016 को सिर्फ चार अंक कम होने से वह कामयाब नहीं हुआ। दोबारा 24 जुलाई को परीक्षा दी तो नंबर और कम हो गए। तभी से वह मायूस था।

पिता से एक साल और मौका देने को कहकर अगस्त में एक लाख रुपये लेकर कोचिंग में दाखिला ले लिया। पिता के मुताबिक 29 दिसंबर को वह कोटा से दोस्तों के साथ कहीं चला गया था। दो जनवरी को अंतिम बार हुई बात में जल्दी घर आने को कहा था। इसके बाद घर नहीं आया तो 6 जनवरी को पिता खुद कोटा गए। वहां दोस्तों से कोई जानकारी नहीं मिल पाई। इस बीच उसने फोन पर भी घर वालों से बात नहीं की।

शुक्रवार शाम वह अचानक घर आ गया। पिता के मुताबिक खाना खाने के बाद सभी लोग सो गए और वह देर तक टीवी देखता रहा। रात को मां सावित्री उठी तो कमरे में टीवी चल रहा था। नरेंद्र नजर नहीं आया। सावित्री ने पति को जगाकर बताया तो वह ऊपरी मंजिल के कमरे में पहुंचे तो कुंडी अंदर से बंद थी। आशंका पर दीवार की एक ईंट तोड़कर देखा तो नरेंद्र का शव सीलिंग हुक से अंगौछे के सहारे लटक रहा था। वह इकलौता पुत्र था और दो बहनों में छोटा था। घटना से मां सावित्री और बहन लक्ष्मी व रश्मि का रो-रोकर बुरा हाल है।
विज्ञापन

Recommended

सब कुशल मंगल के ट्रेलर लॉन्च इवेंट में गूंजे दर्शकों के ठहाके
सब कुशल मंगल

सब कुशल मंगल के ट्रेलर लॉन्च इवेंट में गूंजे दर्शकों के ठहाके

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

पेट्रोल के दामों में लगातार हो रही बढ़ोतरी से परेशान कानपुर के दारोगा, साइकिल से कर रहे सफर

देश में लगातार हो रही पेट्रोल के दामों में बढ़ोतरी के विरोध में कानपुर में एक दारोगा ने अनोखा तरीका अपनाया है। ये दारोगा गाड़ी के बजाए आने-जाने के लिए अपनी साइकिल का इस्तेमाल करते हैं।

6 दिसंबर 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election