विज्ञापन

'खुद की ताकत पहचानने के लिए जिंदगी में विफलता जरूरी है'

वाल्टर बेंजामिन Updated Thu, 02 Aug 2018 01:01 PM IST
Walter Benjamin-  German Jewish philosopher, cultural critic and essayist
विज्ञापन
ख़बर सुनें
जब हम विफल होते हैं, तो अपने आप को तुच्छ मानने लगते हैं। भले ही हम सक्षम हों, मजबूत हों, विफलता हमारा मुंह चिढ़ाती है और हम नसीब को रोने लगते हैं। लेकिन क्या हमने कभी सफलता पर अपनी खूबियों को जानने की या अपनी तकदीर पर खुश होने की कोशिश की है? चाहे लोकप्रियता हो, शराब हो, पैसा हो या प्यार-हर चीज में हमारी कुछ कमजोरियां होती हैं और कुछ खूबियां, लेकिन सफलता पर आत्ममुग्ध होना एक ऐसी खाई में कूदने के समान है, जहां मैल और ठोकर के सिवा कुछ नहीं है।
विज्ञापन
यदि हम इसी घेरे में रहते हैं, तो हमसे बड़ा मूर्ख कोई नहीं। शायद सफलता की यही सबसे बड़ी कीमत है, जो हमें चुकानी होती है। इसलिए अपनी ताकत पहचानने के लिए जिंदगी में विफलता जरूरी है। किसी भी उत्सव-समारोह में शिरकत करना इतना मुश्किल नहीं है, जितना मुश्किल ईश्वर की प्रकृति के साक्षात् दर्शन करना है। यह प्रकृति आवारा, बदमाशों और भिखमंगों पर जितनी मेहरबान होती है, उतनी अमीरों पर नहीं। इस कटु सत्य का आभास आपको तभी हो सकता है, जब एक बार आप इटालियन विला के गेट पर जाएं। आपकी वहां जाकर तमन्ना होगी, सुंदर झील और दिग्गज पहाड़ को खिड़की से निहारने की।

पर जैसे ही आप खिड़की के पास पहुंचेंगे, आपको तस्वीर नहीं, जीती-जागती तस्वीरें दिखाई देंगी - वे तस्वीरें, जिन पर ऊपर वाले ने स्वयं अपने हाथों से हस्ताक्षर किए हैं। अक्सर मैं एक सपना देखा करता था कि मैं सीन नदी के बाएं किनारे पर नोत्रदेम के सामने हूं। बाद में वास्तव में जब मैं वहां बहुत देर तक रहा, तो नोत्रेदेम सरीखा कुछ भी नहीं दिखा। शायद यह सपने का ही असर था कि जिस चीज को सपने में बार-बार देखा, हकीकत में देखने पर उसका कायाकल्प हो चुका था। सुखद हसरतें, वास्तविक छवि की दहलीज पर पैर रखते ही धुंधला चुकी थीं।
-जर्मन यहूदी दार्शनिक

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Literature

'हर बुरे आदमी के पास भी अच्छा हृदय होता है'

मैं जानता हूं कि इस दुनिया में सारे लोग अच्छे और सच्चे नहीं हैं। यह बात मेरे बेटे को भी सीखनी होगी। पर मैं चाहता हूं कि आप उसे यह बताएं कि हर बुरे आदमी के पास भी अच्छा हृदय होता है।

9 सितंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

पांच राज्यों को नहीं मिलेगा ‘आयुष्मान भारत’ का लाभ, ये है वजह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र की महत्वाकांक्षी योजना आयुष्मान भारत स्वास्थ्य बीमा को देश के पांच राज्यों ने लागू करने से मना कर दिया है। कौन-कौन से हैं ये पांच राज्य और क्या है इसके पीछे की वजह आपको बताते हैं इस रिपोर्ट में।

24 सितंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree