विज्ञापन
विज्ञापन

मोदी का मास्टर प्लान, चीन के साथ मिलकर भारत देगा अमेरिका को नई चुनौती

Gautam Chaudharyगौतम चौधरी Updated Sat, 08 Jun 2019 05:49 PM IST
एससीओ यानी शंघाई काॅओपरेशन ऑर्गेनाइजेशन  की बैठक 13 और जून को होगी।
एससीओ यानी शंघाई काॅओपरेशन ऑर्गेनाइजेशन की बैठक 13 और जून को होगी। - फोटो : फाइल फोटो
ख़बर सुनें
एससीओ यानी शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गेनाइजेशन में चीन के प्रभुत्व और मध्य एशिया में भारत की भूमिका पर गहन चिंतन करने की जरूरत है। दरअसल, इससे भारत का भविष्य जुड़ा हुआ है। हालांकि मीडिया में इस बात की चर्चा कम हो रही है कि आने वाले 13-14 जून को एससीओ की बैठक किर्गिस्तान के बिश्केक में होने वाली है, लेकिन इससे इस बैठक की महत्ता कम नहीं हो सकती है।
विज्ञापन
इस शिखर सम्मेलन में शंघाई सहयोग संगठन के तमाम सदस्य देश हिस्सा लेंगे। इस संगठन में अब भारत और पाकिस्तान दोनों शामिल हो चुके हैं, इसलिए भी इस संगठन और आसन्न शिखर सम्मेलन का महत्व बढ़ जाता है।

क्यों महत्वपूर्ण है शंघाई सहयोग संगठन की समिट?  
भू-रणनीतिक संतुलन की दृष्टि से भी देखें तो यह सम्मेलन बेहद महत्वपूर्ण है। अभी हाल ही में संयुक्त राज्य अमेरिका ने ईरान पर दबाव बढ़ाने के लिए भारत को उससे कच्चा तेल खरीदने से मना कर दिया है। अमेरिका के दबाव के बाद भारत ईरान से तेल खरीदना बंद कर रहा है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

Recommended

एलपीयू ही बेस्ट च्वॉइस क्यों है इंजीनियरिंग और अन्य कोर्सों के लिए
Lovely Professional University

एलपीयू ही बेस्ट च्वॉइस क्यों है इंजीनियरिंग और अन्य कोर्सों के लिए

लाख प्रयास के बावजूद  नहीं मिल रही नौकरी? कराएं शनि-केतु शांति पूजा- 29 जून 2019
Astrology

लाख प्रयास के बावजूद नहीं मिल रही नौकरी? कराएं शनि-केतु शांति पूजा- 29 जून 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Blog

उतार-चढ़ाव और कई रहस्यों को जन्म देता रहा भारत-इजरायल के बीच का संबंध

विश्व मंच पर अपने पुराने रुख के उलट, भारत ने संयुक्त राष्ट्र की आर्थिक और सामाजिक परिषद, ईसीओएसओसी, में इजरायल के समर्थन में मतदान किया है। भारत के इस पहल को भारतीय विदेश एवं कूटनीति में परिवर्तन के तौर पर देखा जा रहा है।

26 जून 2019

विज्ञापन

पीएम मोदी ने गालिब के जिक्र के साथ सुनाया जो शेर वो गालिब का है ही नहीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा का जवाब दिया। राज्यसभा में पीएम मोदी का शायराना अंदाज देखने को मिला।

26 जून 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
सबसे तेज अनुभव के लिए
अमर उजाला लाइट ऐप चुनें
Add to Home Screen
Election