विज्ञापन

राष्ट्रीय युवा दिवस 2020: भारत के युवा क्या सिर्फ लाइनों में लगने और आंदोलन करने के लिए हैं?

Rohit OjhaRohit Ojha Updated Sun, 12 Jan 2020 07:39 AM IST
unemployment
unemployment
ख़बर सुनें
भारत दुनिया का सबसे अधिक युवाओं वाले देश है। इसमें कोई दो राय नहीं कि तकरीबन 60 फीसदी युवा आबादी का आने वाले समय में देश के राजनीतिक, सामाजिक, आर्थिक और सांस्कृति स्वरूप में बड़ा योगदान होगा।
विज्ञापन
युवा ना केवल लीड करेंगे बल्कि निर्माण को साकार करेंगे। जाहिर है किसी भी राष्ट्र का वर्तमान राजनीतिक शीर्ष नेतृत्व इस युवा आबादी को देखकर ना केवल इस पर रश्क करेगा बल्कि इसे अपना गर्व भी मानेगा। यकीनन इसमें कोई संशय भी नहीं होना चाहिए कि युवा हमारी शक्ति है और आने वाले समय का आधाार है। लेकिन इस भावी उपलब्धि की कल्पना के बीच हमें कुछ जमीनी सवालों को लेकर भी सोचना चाहिए।

दरअसल, युवाओं का वर्गीकरण भारत की असली युवा आबादी का यथार्थ है। इसमें भी कई कैटगरी हैं। रोजगार मांगते युवा, मेहनत करते युवा, बेहतर शिक्षा की मांग करने पर सड़क पर आंदोलन करते युवा, सोशल मीडिया पर लगे हुए युवा, नेताओं की रैलियों में झंडा उठाकर नारे लगाते युवा ये सब हमारे देश के युवा हैं और इन्हीं से बनता है हमारा युवा भारत।

भारत विश्व का सबसे जवान मुल्क है।  2011 की जनगणना के अनुसार देश में 25 वर्ष की आयु वाले लोगों की संख्या 50 प्रतिशत और 35 वर्ष वाले लोगों आबादी 65 फीसदी बताई गई। ये आंकड़े बताते हैं कि हम एक युवा मुल्क के नागरिक हैं। फिर भी सरकारें इन युवाओं की मांगों को लेकर गंभीर नहीं है। युवाओं के जोश को क्यों पुलिस की लाठियों से रौंदा जा रहा है। क्या सत्ता से नजरें मिलाकर अपने हक की मांग कर रहे युवाओं को सरकार अपना विपक्ष समझ बैठी है? क्यों सरकार देश के युवाओं को रोजगार नहीं दे पा रही है। बेरोजगारी से युवा आत्महत्या कर रहे हैं।
 
आगे पढ़ें

भारत की युवा आबादी और उसकी हालत 

विज्ञापन

Recommended

आईआईटी से कम नहीं एलपीयू, जानिए कैसे
LPU

आईआईटी से कम नहीं एलपीयू, जानिए कैसे

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक

विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Opinion

बजट में हो रोजगार पर जोर

चूंकि देश में रोजगार वृद्धि की दर तीन प्रतिशत से भी कम है, ऐसे में, यह उम्मीद करनी चाहिए कि वित्त मंत्री आगामी बजट को रोजगार केंद्रित बनाएंगी, जिसके तहत रोजगार के साथ-साथ कौशल विकास तथा शिक्षण और प्रशिक्षण के रणनीतिक कदम दिखाई पड़ेंगे।

28 जनवरी 2020

विज्ञापन

जाने 28 जनवरी का दिन किन राशि वालों के लिए है बेहतर

यहां देखिए क्या कहता है 28 जनवरी का आपका राशिफल इतना ही नहीं अब हर रोज दिन के हिसाब से जानिए अपना राशिफल।

27 जनवरी 2020

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us