विज्ञापन
विज्ञापन

50 Years of ISRO: श्रीहरिकोटा से ही क्यों होते हैं सभी प्रक्षेपण?

Pankhuri Singhपंखुड़ी सिंह Updated Fri, 16 Aug 2019 01:08 PM IST
know what makes sriharikota space center ideal launchpad
- फोटो : Amar Ujala
ख़बर सुनें
देश अपना 73वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है। एक समय पर सोने की चिड़िया कहलाए जाने वाले हमारे देश की बहुत सी बातें ऐसी हैं जिनपर हमें गर्व महसूस होता है। भारत को गौरवान्वित करने वाले संस्थानों में से एक है इसरो यानि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन। 15 अगस्त 2019 को इसरो भी अपनी 50वीं सालगिरह का जश्न मनाएगा। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन का 1969 में गठन किया गया था।
विज्ञापन
इन वर्षों में, इसरो ने 60 तकनीकी विकास प्रक्षेपण, 87 भारतीय अंतरिक्ष शिल्प प्रक्षेपण, 8 छात्र उपग्रह प्रक्षेपण, दो प्रवेश मिशन और 23 देशों के 180 विदेशी उपग्रह श्रीहरिकोटा से प्रक्षेपित किए हैं। इतना ही नहीं भारत के चांद पर पहुंचने के सपने को भी इसरो ने सफलतापूर्वक पूरा किया है। 2008 में चद्रयान 1 और 2019 में चंद्रयान 2 की सफलतापूर्वक लॉन्चिंग ने भारत को नए मुकाम पर पहुंचाया है।  ऐसे में ये जानना दिलचस्प होगा कि इसरो द्वारा किए जाने वाले प्रक्षेपण श्रीहरिकोटा से ही क्यों किए जाते हैं? 

भारत का "स्पेसपोर्ट" श्रीहरिकोटा, आंध्र प्रदेश के पूर्वी तट पर एक स्पिंडल (धुरा-एक्सल) के आकार का द्वीप है। यह भारत का एकमात्र स्पेसपोर्ट है जहां से उपग्रह लॉन्च किए जाते हैं। आखिर किसी भी उपग्रह को श्रीहरिकोटा से ही क्यों लांच किया जाता है? आखिर वो क्या कारण हैं जो श्रीहरिकोटा को इतना खास बनाते हैं? आइए जानते हैं - 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

Recommended

फैशन इंडस्ट्री दे रही है खास मौके, इन्वर्टिस संग करें खुद को तैयार
Invertis university

फैशन इंडस्ट्री दे रही है खास मौके, इन्वर्टिस संग करें खुद को तैयार

अपनी संतान की लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में संतान गोपाल पाठ और हवन करवाएं - 24 अगस्त 2019
Astrology Services

अपनी संतान की लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में संतान गोपाल पाठ और हवन करवाएं - 24 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Blog

आयुष्मान खुराना: मुंबई की धरती पर पहला कदम और आंखों में ढेर सारे सपने...

आयुष्मान: करियर का पहला राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मेरे दिल के काफी करीब है। लेकिन, कम लोगों को ही पता होगा कि आखिर उस दिन हुआ क्या?

17 अगस्त 2019

विज्ञापन

दूरदर्शन की वरिष्ठ पत्रकार और एंकर नीलम शर्मा का निधन, कैंसर से थीं पीड़ित

दूरदर्शन की वरिष्ठ एंकर नीलम शर्मा का निधन हो गया। दूरदर्शन के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर इसकी जानकारी दी गई। जानकारी के मुताबिक वो कैंसर से पीड़ित थीं।

17 अगस्त 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree