एयर इंडिया: ईंधन बिल के 16000 करोड़ चुकाएगी सरकार, कंपनी के बहीखातों को दुरुस्त करेगा केंद्र

एजेंसी, नई दिल्ली Published by: देव कश्यप Updated Tue, 12 Oct 2021 01:16 AM IST

सार

विमानन कंपनी की भूमि और भवन जैसी गैर-प्रमुख संपत्तियां संभालने वाली एयर इंडिया एसेट्स होल्डिंग लिमिटेड (एआईएएचएल) के खाते में विमानन कंपनी का 75 फीसदी कर्ज भी आएगा, जिसकी जिम्मेदारी टाटा समूह नहीं ले रहा है। 
एयर इंडिया
एयर इंडिया - फोटो : PTI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

विमानन कंपनी एयर इंडिया को टाटा समूह को सौंपने से पहले सरकार उसके ईंधन बिल और आपूर्तिकर्ताओं का करीब 16,000 करोड़ रुपये बकाया चुकाएगी। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सरकार यह राशि एक विशेष उद्देश्यीय इकाई में हस्तांतरित करेगी।
विज्ञापन


विमानन कंपनी की भूमि और भवन जैसी गैर-प्रमुख संपत्तियां संभालने वाली एयर इंडिया एसेट्स होल्डिंग लिमिटेड (एआईएएचएल) के खाते में विमानन कंपनी का 75 फीसदी कर्ज भी आएगा, जिसकी जिम्मेदारी टाटा समूह नहीं ले रहा है। 


निवेश एवं सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) के सचिव तुहिन कांत पांडेय ने कहा कि कर्ज के अलावा एआईएएचएल पर अतिरिक्त देनदारी भी आएगी। इनमें तेल कंपनियों, एयरपोर्ट परिचालकों और वेंडर्स का बकाया शामिल है। इसलिए टाटा समूह को सौंपने से पहले सरकार बाकी चार महीने (सितंबर-दिसंबर) एयर इंडिया के बहीखातों पर काम करेगी।

बची देनदारियों को एआईएएचएल को स्थानांतरित कर दिया जाएगा। एयर इंडिया पर 31 अगस्त तक कुल 61,562 करोड़ बकाया था। टाटा संस 15,300 करोड़ की जिम्मेदारी लेगी और बाकी 46,262 करोड़ एआईएएचएल को हस्तांतरित किया जाएगा। विमानन कंपनी की गैर-प्रमुख संपत्तियां भी एआईएएचएल को हस्तांतरित की जाएगी, जिसकी कीमत 14,718 करोड़ रुपये बताई गई है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00