ऐसे जान सकते हैं कितने बच्चे होंगे आपके?

टीम डिजिटल Updated Wed, 22 Jan 2014 01:13 PM IST
santan rekha palmistry
विज्ञापन
ख़बर सुनें
अगर यह जानना चाहते हैं कि आपके कितने बच्चे होंगे और बच्चों से आपको सुख मिलेगा या नहीं। बच्चे गुणवान होंगे या बदमाश तो यह सब आप खुद अपनी हथेली देखकर जान सकते हैं।
विज्ञापन


समुद्रशास्त्र में बताया गया है कि हथेली में सबसे छोटी उंगली के नीचे दिखने वाली खड़ी रेखाओं को एवं अंगूठे के नीचे शुक्र पर्वत के पास जो भी छोटी रेखाएं होती हैं उन्हें संतान रेखा के रुप में देखा जाता है।


माना जाता है कि जो संतान रेखा स्पष्ट और साफ होती है वह पुत्र संतान को दर्शाता है जबकि पतली और हल्की रेखाएं कन्या संतान को दर्शाते हैं।

पढ़ें, कामुकता की निशानी हैं यहां मौजूद तिल

हस्तरेखा विज्ञान के कुछ पुस्तकों के अनुसार हल्की रेखाओं का मतलब यह भी होता है कि यह संतान शारीरिक तौर पर कमजोर हो सकता है।

हस्तरेखा विज्ञान के अनुसार जिनकी हथेली में बुध पर्वत अधिक उभरा हुआ और संतान रेखा स्पष्ट होती हैं उन्हें चार पुत्र और तीन कन्या संतान होने की संभावना रहती है।  ऐसे व्यक्ति के बच्चे संस्कारी और गुणवान होते हैं।

पढ़ें, साप्ताहिक राशिफल 20 जनवरी से 26 जनवरी तक कैसा रहेगा अापका समय


जिनकी हथेली में शुक्र पर्वत के नीचे यानी अंगूठे के नीचे का भाग अधिक उभरा होता है उन्हें एक संतान होने की संभवना रहती है।

जिनकी हथेली में कोई एक संतान रेखा अधिक स्पष्ट और साफ होती हैं उन्हें अन्य संतान की अपेक्षा किसी संतान से विशेष लगाव रहता है और इनसे सुख मिलता है।

पढ़ें,मुजफ्फरनगर की घटना, जिसने मारा उसी के घर पैदा हुआ वह


अगर किसी पुरुष की हथेली में संतान रेखा स्पष्ट नहीं हो तो परेशान होने की जरुरत नहीं है। ऐसे व्यक्तियों को अपनी पत्नी की हथेली में संतान रेखा देखनी चाहिए। माना जाता है कि संतान रेखा पुरुषों की अपेक्षा स्त्री के हाथों में अधिक स्पष्ट होती है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Astrology News in Hindi related to daily horoscope, tarot readings, birth chart report in Hindi etc. Stay updated with us for all breaking news from Astro and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00