'My Result Plus
'My Result Plus

डीसीडीएफ की जमीन खुर्दबुर्द करने में फंसे चेयरमैन

Rampur Updated Wed, 09 May 2012 12:00 PM IST
रामपुर। डीसीडीएफ की जमीन चेयरमैन ने ही खुर्दबुर्द कराई। कीमती जमीन पर अवैध कब्जे भी उन्होंने ही कराए। संपत्ति की सुरक्षा में भी लापरवाही बरती गई है। जांच रिपोर्ट में चेयरमैन को दोषी माना है। कार्रवाई के लिए जांच रिपोर्ट ज्वाइंट रजिस्ट्रार को भेज दी गई है।
माला रोड पर डीसीडीएफ की करीब 23 एकड़ जमीन है। कुछ हिस्से पर कोल्ड स्टोर भी है जो काफी पहले बंद हो चुका है। खाली पड़ी जमीन पर कई साल से अवैध कब्जे किए जा रहे हैं। कब्जों का मामला कई बार सुर्खियों में आ चुका है। कई बार कब्जे लेकर लोग आपस में भी भिड़ चुके हैं। नगर विकास मंत्री मुहम्मद आजम खां ने कुछ दिन पहले विकास कार्यों की समीक्षा की थी। उन्होंने डीसीएफ की जमीन की भी जांच के आदेश दिए थे। सहायक निबंधक ने अपर जिला सहकारी अधिकारी से जांच कराई। जांच में डीसीएफ के चेयरमैन को दोषी पाया गया है। रिपोर्ट में कहा है चेरयमैन ने ही डीसीएफ की जमीन खुर्द-बुर्द कराई। जमीन पर नाजायज कब्जे भी चेयरमैन ने ही कराए। संपत्ति की देखरेख मेें भी लापरवाही बरती गई है। एआर मुहम्मद असलम खां ने बताया जांच में चेयरमैन मुहम्मद अहसान दोषी पाए गए हैं। कार्रवाई के लिए ज्वाइंट रजिस्ट्रार को जांच रिपोर्ट भेज दी है।

Spotlight

Related Videos

इस मामले में एक्टर राजपाल यादव को हुई छह महीने की जेल

बॉलीवुड एक्टर राजपाल यादव को दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट ने छह महीने की जेल की सजा सुनाई है। अदालत ने इसी के साथ एक्टर पर जुर्माना भी लगाया है। यादव को इससे पहले भी साल 2013 में फर्जी दस्तावेज जमा करने के कारण तिहाड़ जेल की हवा खानी पड़ी थी।

23 अप्रैल 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen