विज्ञापन

सपने मे भी नहीं सोचा था कि बेटा आईएएस बनेगा

Bhadohi Updated Sat, 05 May 2012 12:00 PM IST
भदोही। भदोही नगर से सटे ग्राम नयनपुर के अजय कुमार पाल ने आईएएस की परीक्षा पास कर अपने परिजनों सहित जनपदवासियों का सर गर्व से ऊंचा कर दिया है। अजय के पास होने की सूचना शुक्रवार की दोपहर जब उसके घरवालों को हुई तो सभी खुशी से झूम उठे और हर तरफ से बधाईयां आने लगी। सूचना मिलने के समय अजय के पिता परिवार के लोगों को लेकर वाराणसी गए थे। अजय को परीक्षा में 631वीं रैक मिली है।
विज्ञापन
विज्ञापन
नयनपुर के अछैवर नाथ पाल प्रदेश सरकार मे वरिष्ठ लेखा परीक्षा अधिकारी रहते वर्ष 2007 में सेवानिवृत्त हुए थे। उन्होंने हमेशा चाहा कि उनके बच्चे पढ़ लिख कर किसी अच्छे ओहदे तक पहुंचे। यही कारण था कि अपने तीनों बेटों को उन्होंने खूब पढ़ाया लेकिन अंतिम पुत्र अजय उन्हें आईएएस बन कर दिखाएगा उन्होंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था। अजय की दसवीं तक की शिक्षा सेंट मेरीज स्कूल नईबाजार में हुई। इंटरमीडिएट श्री इंद्र बहादुर सिंह नेशनल इंटर कालेज से करने के बाद बीएचयू से उनसे स्नातक उपाधि प्राप्त कर एमए करने के लिए इलाहाबाद युनिवर्सिटी में दाखिला ले लिया। एमए के बाद अजय प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए नई दिल्ली चला गया और वहीं पर रह कर तैयारी करने लगा। अजय के दोनों बड़े भाई भी स्नातक हैं।
अजय के भाई अरुण कुमार पाल ने बताया कि आज दोपहर 1 बजे जब उसे भाई के आईएएस परीक्षा पास कर लेने की जानकारी हुई तो वह खुशी से उछल पड़ा। उस समय पर मोढ़ में अपनी स्टूडियो मे था लेकिन अपनी मां को शाम 5.30 बजे घर लौट कर ही दे सका। अजय की माता जीरा देवी शुद्ध रूप से गृहणी हैं और वे खुद नहीं जानती की एक आईएएस का कद कितना ऊंचा होता है। आज देर शाम तक जैसे जैसे इसकी खबर सगे संबंधियों, मित्रों तक पहुंचती गई अजय के घर बधाईयों का तांता लगने लगा। हर कोई अजय की कामयाबी पर खुश था। लोगों को इस बात की ज्यादा खुशी थी अजय ने भदोही जनपद का नाम पूरे भारत में एकाएक रौशन कर दिया है।

Recommended

बच्चों के विकास के लिए बेहद जरूरी है देसी घी, जानें इसके फायदे
ADVERTORIAL

बच्चों के विकास के लिए बेहद जरूरी है देसी घी, जानें इसके फायदे

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

पहली बार ऑस्ट्रेलिया में भारत के नाम हुई टेस्ट-वनडे सीरीज, रचा इतिहास

भारत ने 70 साल बाद ऑस्ट्रेलिया की सरज़मीं पर मेजबान ऑस्ट्रेलिया को हराकर इतिहास रच दिया है.. भारत ने द्विपक्षीय सीरीज़ पर 2-1 से कब्ज़ा कर लिया है

18 जनवरी 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree