विज्ञापन

नेपाल पहुंचे पाक प्रधानमंत्री अब्बासी, एयरपोर्ट पर वित्त मंत्री ने किया स्वागत

अतुल मिश्र, अमर उजाला, काठमांडू Updated Mon, 05 Mar 2018 08:59 PM IST
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी - फोटो : file photo
विज्ञापन
ख़बर सुनें
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी दो दिवसीय नेपाल दौरे पर सोमवार को नेपाल पहुंचे। 30 सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल का नेतृत्व करते हुए काठमांडू आए अब्बासी नेपाल में करीब 20 घंटे बिताएंगे।
विज्ञापन
सोमवार को पाकिस्तानी एयरफोर्स के विमान से त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे में उतरे अब्बासी का नेपाल के वित्त मंत्री युवराज खतिवडा ने स्वागत किया। अब्बासी के सम्मान में सोमवार शाम नेपाली सेना द्वारा गार्ड ऑफ ऑनर  प्रदान किया गया। इस समारोह में प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली भी उपस्थिति थे। पाक प्रधानमंत्री के सम्मान में नेपाल के प्रधानमंत्री ने होटल याक एंड यत्ति में रात्रि भोज का आयोजन भी किया है। इसी होटल में ओली और अब्बासी के बीच विशेष भेंटवार्ता होगी। 

विदेश मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार भेंटवार्ता में ओली को अब्बासी प्रधानमंत्री निर्वाचित होने के लिए बधाई देने के साथ ही द्विपक्षीय हित के विषय में विचार विमर्श करेंगे। नेपाल स्थित पाक दूतावास द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार ओली को बधाई देने के साथ ही आगामी सार्क सम्मेलन के आयोजन विषय में भी नेपाल के प्रधानमंत्री के साथ विचार विमर्श होगा। अब्बासी मंगलवार सुबह नेपाल के राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी के साथ मुलाकात करने के बाद वापस अपने देश लौट जाएंगे।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

क्या है रणनीतिक महत्व

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Rest of World

अफगानिस्तान: संघर्ष क्षेत्र में रिपोर्टिंग के दौरान अब तक 14 पत्रकारों की मौत

काबुल में पांच सितंबर को आत्मघाती हमले की लाइव रिपोर्टिंग करने के कुछ क्षण बाद ही हुए एक कार विस्फोट में पत्रकार समीम फरामार्ज की मौत हो गई। उनके साथ ही कैमरामैन रमीज अहमदी की भी मौत हो गई।

22 सितंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

ब्रिस्टल यूनिवर्सिटी के छात्रों ने सफाईकर्मी को दिया हैरतंगेज तोहफा

ब्रिटेन की ब्रिस्टल यूनिवर्सिटी के छात्रों ने कुछ ऐसा किया कि उनकी हर जगह वाहवाही हो रही है। उन्होंने अपनी यूनिवर्सिटी के एक सफाईकर्मी को कभी न भूलने वाला तोहफा दिया है। हरमन गोर्डन पिछले एक दशक से अपने देश नहीं जा पा रहे थे जिनकी मदद छात्रों ने की।

21 सितंबर 2018

Related

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree