चीन : कूड़ेदान में पांच लावारिस बच्चों की मौत

Avanish Pathak Updated Mon, 19 Nov 2012 03:46 PM IST
five illegitimate children killed in china on trash
दक्षिणी चीन के प्रांत ग्वीज़ो में पांच बच्चों की मौत एक कूड़ेदान में हो गई है. माना जा रहा है कि ये बच्चे सड़कों पर रहने वाले लावारिस बच्चे थे.

ये बच्चे एक बड़े कूड़ेदान के अंदर घुसे और ठंड से बचने के लिए उन्होंने आग लगाई लेकिन इनकी मौत सांस में कॉर्बन मोनोक्साइड लेने से हो गई.

इन बच्चों की उम्र दस साल के करीब बताई जा रही है. चीन की स्थानीय न्यूज़ एजेंसी शिनहुआ के मुताबिक ग्वीजो राज्य के बीज शहर में इन बच्चो ने ठंड से बचने के लिए कोयला जलाया था लेकिन उसका धुंआ उनके लिए जानलेवा बन गया.

एजेंसी ने एक स्थानीय अधिकारी के हवाले से बताया कि पोस्टमॉर्टम के बाद पाया गया कि मौत का कारण कार्बन मोनोक्साइड गैस था.

सोशल मीडिया पर चर्चा

शुक्रवार की रात बीज शहर में तापमान छह डिग्री था. इस खबर की चीन में सोशल मीडिया पर भी खूब चर्चा हो रही है.

चीन में ट्विटर के जैसा माइक्रोब्लॉगिंग साइट वाइबो पर रविवार रात तक 25 लाख कमेंट आ चुके थे .

इंटरनेट में इस खबर पर बहुत बहस हो रही है. कुछ लोग इस दुर्घटना के लिए सरकार को जिम्मेदार मान रहे हैं जबकि कुछ लोगों का कहना है कि उन बच्चों के मां-बाप की लापरवाही से बच्चों की जान गई हैं.

फिलहाल पुलिस इन बच्चों की पहचान की कोशिश कर रही है.

Spotlight

Most Read

Rest of World

एक लाख लड़कियों की शिक्षा के लिए एप्पल ने मिलाया मलाला से हाथ

दुनिया के सबसे प्रसिद्ध सीईओ एप्पल के टिम कुक और सबसे मशहूर युवा मलाला यूसुफजई ने लेबनान की राजधानी में शनिवार को लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए साथ काम करने की घोषणा की।

22 जनवरी 2018

Related Videos

भोजपुरी की 'सपना चौधरी' पड़ी असली सपना चौधरी पर भारी, देखिए

हरियाणा की फेमस डांसर सपना चौधरी को बॉलीवुड फिल्म का ऑफर तो मिल गया लेकिन भोजपुरी म्यूजिक इंडस्ट्री में उनके लिए एंट्री करना अब भी मुमकिन नहीं हो पा रहा है।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper