दुनिया में ओमिक्रॉन : मरीजों की संख्या में उछाल, चीन ने लोगों से कहा- घरों में ही रहें, हांगकांग ने कई उड़ानें रोकीं

एजेंसी, वाशिंगटन/शंघाई। Published by: योगेश साहू Updated Sat, 15 Jan 2022 12:58 AM IST

सार

दुनिया में ओमिक्रॉन पीड़ितों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। वहीं दूसरी ओर शंघाई में पर्यटन गतिविधियां बंद कर दी गई हैं। 150 से ज्यादा देशों के हवाई यात्री 16 जनवरी से 15 फरवरी तक हांगकांग नहीं आ सकेंगे।
प्रतीकात्मक तस्वीर।
प्रतीकात्मक तस्वीर। - फोटो : PTI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

ओमिक्रॉन के बढ़ते मामले दुनिया में कहर बरपा रहे हैं। अकेले अमेरिका में एक दिन के भीतर अस्पताल में 1.51 लाख रोगी भर्ती हुए हैं। इस बीच, चीन ने ओमिक्रॉन मामलों में वैश्विक उछाल के बाद शुक्रवार को दर्जनों अंतरराष्ट्रीय उड़ानें रोकते हुए शंघाई में पर्यटन गतिविधियां बंद कर दी हैं। हांगकांग ने भी 150 से ज्यादा देशों के यात्रियों को एक माह तक शहर में आने जाने पर पाबंदी लगाने का कहा है। 
विज्ञापन


दुनिया में जहां पिछले एक दिन में 31.54 लाख नए कोरोना मामले सामने आए वहीं इसी अवधि में 7,211 मौतें भी हुईं हैं। चीन, अमेरिका और यूरोपीय देश इससे सर्वाधिक प्रभावित हो रहे हैं। चीन में चार फरवरी को शीतकालीन ओलंपिक भी होने हैं इसलिए अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है। 


उसने विदेशी यात्रियों के संक्रमित पाए जाने के बाद यूरोप, कनाडा, अमेरिका, इंडोनेशिया और कई अन्य जगहों से आने वाली दर्जनों विदेशी उड़ानें रोक दी हैं। यहां तक कि चीन की स्थानीय सरकारों ने निवासियों से शहर नहीं छोड़ने का आग्रह किया है। 

शंघाई में 10 दिनों में संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ी है। उत्तरी तियानजिन और तीन अन्य शहरों में ओमिक्रॉन वैरिएंट आक्रामक हुआ है। हांगकांग हवाई अड्डे पर लगे नोटिस के मुताबिक 150 से अधिक स्थानों के यात्रियों को 16 जनवरी से 15 फरवरी तक देश में आने से रोका जाएगा।

अमेरिकी अस्पतालों में आईसीयू क्षमता घटी
अमेरिका में जहां एक दिन में 1.51 लाख लोग रिकॉर्ड संख्या में भर्ती हुए हैं वहीं देश के 19 राज्यों के पास अपने आईसीयू में 15 फीसदी से भी कम क्षमता शेष बची है। जबकि केंटकी, अलबामा, इंडियाना और न्यू हैम्पशायर प्रांतों में यह संख्या 10 फीसदी से भी कम है। देश में ओमिक्रॉन वैरिएंट के बढ़ते प्रसार को देखते हुए अस्पताल में चिकित्सा कर्मियों की संख्या भी घट गई है।

इस कारण दबाव काफी अधिक पड़ रहा है। एरिजोना, डेलावेयर, जॉर्जिया, मैसाचुसेट्स, मिसिसिपि, मिसौरी, नेवादा, न्यू मैक्सिको, उत्तरी कैरोलिना, ओहियो, ओक्लाहोमा, पेंसिल्वेनिया, रोड आइलैंड, टेक्सास और वरमोंट में हालात बेहद खराब हैं।

चीन में सख्ती, लोगों से कहा- घरों में ही रहें
चीन ने कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट से प्रभावित शहरों में लोगों को घरों पर ही रहने का आदेश दिया है। हेनान प्रांत के युझोउ शहर में शुक्रवार को 6,000 क्वारंटीन कमरों की तैयारी तेज हो गई है। इसके अलावा झेंग्झाउ में 5,000 क्वारंटीन कक्ष अप्रैल तक बनाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। शिजियांजुआंग, झिगोऊ और शेन्नान शहरों में भी सख्ती बढ़ा दी गई है।

इटली में भी अब ओमिक्रॉन फैला
कोरोना वायरस का अत्यधिक संक्रामक ओमिक्रॉन वैरिएट अब इटली में भी बहुत तेजी से बढ़ रहा है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान ने शुक्रवार को बताया कि 3 जनवरी को कराए गए एक सर्वेक्षण में 81 फीसदी मामले ओमिक्रॉन वैरिएंट के पाए गए। जबकि 20 दिसंबर को ओमिक्रॉन संक्रमण सिर्फ 28 फीसदी ही था। 3 जनवरी के सर्वे में देश के भीतर डेल्टा स्वरूप के मामले 19 फीसदी हैं।

कोरोना के दो नए ट्रीटमेंट को डब्ल्यूएचओ की मंजूरी
दुनिया भर में बढ़ते संक्रमण के बीच डब्ल्यूएचओ ने दो नए कोरोना ट्रीटमेंट (इलाज) की मंजूरी दी है। ब्रिटिश मेडिकल जर्नल द बीएमजे के अनुसार , विशेषज्ञों ने कहा कि कॉर्टिकॉसेरॉइड के साथ इस्तेमाल की जाने वाली गठिया (आर्थराइटिस) की दवा बारिसिटिनिब गंभीर कोरोना मरीजों के इलाज के लिए बेहतर साबित हुई और वेंटिलेटर की आवश्यकता कम हो गई। इसके अलावा विशेषज्ञों ने सिंथेटिक एंटीबॉडी ट्रीटमेंट सोट्रोविमैब की भी सिफारिश की है। यह बुजुर्गों और मधुमेह जैसी पुरानी बीमारियों के लिए कारगर साबित हो सकता है।

अफ्रीका में आई चौथी लहर थमी : डब्ल्यूएचओ
डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि अफ्रीका में कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट से आई चौथी लहर अब थमती प्रतीत हो रही है। छह सप्ताह तक मामलों में तेजी के बाद इनमें गिरावट आनी शुरू हो गई है। इस वैरिएंट का पहला मामला दक्षिण अफ्रीका में 24 नवंबर को सामने आया था। डब्ल्यूएचओ ने 26 नवंबर को इसे संक्रमण का चिंताजनक स्वरूप घोषित किया था।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00