लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   Joe Biden says on US Capitol violence they were not protesters They were a riotous mob

ट्रंप पर बरसे बाइडन, पेलोसी बोलीं- राष्ट्रपति पद से हटाया जाए नहीं तो लाया जाएगा महाभियोग

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, वाशिंगटन Published by: देव कश्यप Updated Fri, 08 Jan 2021 06:15 AM IST
जो बाइडन ने अमेरिकी संसद में हुए हमले पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की
जो बाइडन ने अमेरिकी संसद में हुए हमले पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की - फोटो : ANI-PTI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों को लेकर सियासी खींचतान के बीच राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों की भीड़ ने यूएस कैपिटल हिल बिल्डिंग के बाहर बुधवार को भारी हंगामा किया। अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन ने यूएस कैपिटल भवन (अमेरिकी संसद भवन) में ट्रंप समर्थकों के हंगामे को राजद्रोह करार दिया है। बाइडन ने हिंसक हमले के एक दिन बाद ट्रंप समर्थक भीड़ को ‘घरेलू आतंकवादी’ बताते हुए उसकी निंदा की। 



बाइडन ने आगे कहा कि 'कोई भी मुझे यह नहीं बता सकता है कि अगर बुधवार को विरोध करने वाले ब्लैक लाइव्स मैटर का एक समूह होता, तो उनके साथ बहुत अच्छा व्यवहार नहीं किया जाता, उनके साथ उपद्रवियों की भीड़ की तुलना में बहुत अलग व्यवहार किया जाता, जिन्होंने कैपिटल भवन (अमेरिकी संसद भवन) पर धावा बोल दिया था। हम सभी जानते हैं कि यह सच है। और यह अस्वीकार्य है।'

 


वहीं कांग्रेस (संसद) के निम्न सदन प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैंसी पेलोसी ने कहा कि' यदि ट्रंप को 25वें संशोधन के तहत राष्ट्रपति पद से नहीं हटाया जाता है, तो अमेरिकी संसद महाभियोग की कार्यवाही करने की ओर बढ़ सकती है।'
 
वहीं व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव कायले मैकनेनी ने कहा कि 'मैं पूरे व्हाइट हाउस की ओर से यहां यह संदेश देती हूं कि यूएस कैपिटल भवन में कल हमने जो हिंसा देखी, वह अमेरिका के लिए भयावह, निंदनीय और विरोधाभासी थी। राष्ट्रपति और ट्रंप प्रशासन की तरफ से कड़े शब्दों में हम इसकी निंदा करते हैं। यह अस्वीकार्य है और जिन लोगों ने कानून तोड़ा है, उन पर कानून के तहत पूरी कार्रवाई की जानी चाहिए।'
विज्ञापन
 
 


स्पीकर नैंसी पेलोसी के ऑफिस में भी की गई तोड़फोड़
डोनाल्ड ट्रंप समर्थक दंगाइयों द्वारा बुधवार को अमेरिकी संसद पर किए गए हमले में कांग्रेस (संसद) के निम्न सदन प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैंसी पेलोसीके कार्यालय में भी तोड़फोड़ की गई। पेलोसी के सहायक ने बताया कि भीड़ ने 80 वर्षीय शीर्ष डेमोक्रेट नेता के अति सुरक्षित इमारत स्थित कार्यालय में लगे बड़े आइने को तोड़ दिया और दरवाजे पर लगी नाम की पट्टी उखाड़ दी। 

बता दें कि अमेरिकी संसद में हिंसा के बाद निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन ने राष्ट्र के नाम संदेश में कहा कि 'वह यह देखकर हतप्रभ और दुखी हैं कि अमेरिका में ऐसा अंधकारमय क्षण आ गया है। इस समय, हमारा लोकतंत्र अभूतपूर्व संकट में है। किसी अन्य चीज के विपरीत हमने यह आधुनिक युग में देखा है। यह स्वतंत्रता के दुर्ग, कैपिटल भवन पर हमला है। यह लोगों के प्रतिनिधियों तथा कैपिटल हिल पुलिस पर हमला है।' 

ट्विटर-फेसबुक ने ट्रंप का अकाउंट किया अवरुद्ध
इस बीच, ट्विटर और फेसबुक ने एक अभूतपूर्व कदम उठाते हुए ट्रंप के अकाउंट्स को अवरुद्ध कर दिया। ट्विटर ने ट्रंप के अकाउंट को 12 घंटे के लिए अवरुद्ध कर दिया और समर्थकों को उनके संबोधन सहित उनके तीन वीडियो भी अवरुद्ध कर दिए। फेसबुक ने कहा कि वह नीति उल्लंघन के चलते राष्ट्रपति के अकांउट को 24 घंटे के लिए अवरुद्ध कर रहा है।

गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में शिकस्त के बाद भी डोनाल्ड ट्रंप और उनके समर्थक हार मानने को तैयार नहीं हैं। डोनाल्ड ट्रंप दबाव बना रहे थे कि चुनाव में धांधली हुई है। उनके समर्थकों ने इसी सिलसिले में संसद भवन पर धावा बोल दिया। इस दौरान उपद्रवियों को रोकने में अमेरिकी संसद में ही गोली चल गई। इसमें एक महिला की जान भी चली गई। पुलिस का कहना है कि अब तक कुल चार लोगों की मौत हो चुकी है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00