दुबई में प्रधानमंत्री मोदी ने बताया इन '6R' के जरिए मिलेगा 'आनंद'

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला Updated Sun, 11 Feb 2018 04:06 PM IST
PM Narendra Modi said We need to follow the six R s to rejoice meaning 'Anand'
ख़बर सुनें
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त अरब अमीरात में आयोजित वर्ल्ड गवर्नमेंट समिट में हिस्सा लिया। इस दौरान अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि 'इस समिट के 6वें एडिशन में चीफ गेस्ट के तौर पर बुलाने के लिए 125 करोड़ भारतीयों की तरफ से शुक्रिया।' 
पीएम ने सम्मेलन के दौरान 'आनंद' के द्वार तक पहुंचने का मंत्र भी दिया। मोदी ने कहा 'हमें 6 R का पालन करने की आवश्यकता है। रिड्यूस,रेस्क्यू, रीसाइकल,रिकवर, रीडिजाइन और रीमैन्युफैक्चर को फॉलो करें, जो हमें 'आनंद' के द्वार तक पहुंचा सकता है।'

प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा 'बीते 25 वर्षों में भारत में मातृ मृत्यु दर एक तिहाई की कमी देखी गई तो वहीं विश्व में यह आधी हो चुकी है। तकनीक तो विचारों की तरह तेजी से बदल रही है। तकनीक ने लोगों के जीवन में अभूतपूर्व परिवर्तन आ गया है।'

उन्होंन कहा 'विकास का पहलू ये भी है कि पाषाण युग से औद्योगिक क्रांति के सफर में हजारों साल गुजर गए। उसके बाद संचार क्रांति तक सिर्फ 200 वर्षों का समय लगा। और वहां से डिजिटल क्रांति का फासला कुछ ही सालों में तय हो गया।'

RELATED

Spotlight

Most Read

Gulf Countries

सीरिया में सैन्य ठिकानों पर कहर बनकर बरसे अमेरिकी बम, 40 की मौत और कई घायल

अमेरिकी नेतृत्व वाली गठबंधन सेना के लड़ाकू विमानों ने रविवार की दरमियानी रात इराक सीमा के पास देश के पूर्वी हिस्से में बम बरसाए जिसमें सरकारी सेना से संबद्ध करीब 40 विदेशी लड़ाकों की मौत हो गई।

18 जून 2018

Related Videos

सोशल मीडिया पर छाया भोजपुरी गाने पर गांव की बच्ची का डांस

सोशल मीडिया पर गांव की बच्ची का डांस वायरल हो रहा है। एक बच्ची भोजपुरी गाने पर नाचती नजर आ रही है। बच्ची की गरीबी का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उसके पैर में चप्पल तक नहीं है...

23 जून 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen