2017 में ‘फेक न्यूज’ बना दुनिया का सबसे चर्चित शब्द

एजेंसी, लंदन Updated Fri, 03 Nov 2017 10:31 AM IST
'Fake news' is word of the year 2017
वर्ड ऑफ द ईयर 2017 - फोटो : File Photo
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा लोकप्रिय ‘फेक न्यूज’ यानी फर्जी खबर शब्द को कॉलिन्स डिक्शनरी ने वर्ड ऑफ द इयर 2017 घोषित किया है। दुनिया भर में इस शब्द के व्यापक उपयोग के कारण कॉलिन्स डिक्शनरी ने यह फैसला लिया। 
ब्रिटेन आधारित इस शब्दकोश ने पाया है कि फेक न्यूज शब्द के उपयोग में पिछले 12 महीनों में 365 फीसदी की वृद्धि हुई है। 2016 में राष्ट्रपति चुनाव लड़ने वाले ट्रंप ने मीडिया कवरेज को विपक्षी पक्ष की कवरेज करार देते हुए लगातार इस शब्द का इस्तेमाल किया था। 

हालांकि, यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के अलग होने के दौरान जून 2016 में हुए जनमत संग्रह के बाद गलत खबरों के लिए एक निश्चित नाम ‘फेक न्यूज’ ही दिया गया था। इससे पहले फेक न्यूज शब्द को गलत, सनसनीखेज, समाचार रिपोर्टिंग की आड़ में प्रसारित गलत जानकारी कहा जाता था। दावा किया जा रहा है कि ट्रंप द्वारा इस्तेमाल किए जाने के बाद इस शब्द को यह ख्याति प्राप्त हुई। 

कॉलिन्स की भाषा सामग्री विभाग की प्रमुख हेलेन न्यूस्टीड ने कहा, ‘फेक न्यूज का इस्तेमाल या तो बयान के रूप में या एक आरोप के रूप में इस वर्ष बहुत ज्यादा उपयोग में लिया गया। यह एक अनिवार्य शब्द बन गया है। इस शब्द ने समाचार रिपोर्टिंग पर समाज के विश्वास को कम करने में योगदान दिया है।’


 
आगे पढ़ें

रूसी हस्तक्षेप वाली खबरों पर भड़के ट्रंप

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news, Crime all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

Spotlight

Most Read

Europe

चीन-पाक के CPEC का जर्मनी में विरोध, बलूचिस्तान की आजादी की उठी मांग

जर्मनी के मुनीच में पाकिस्तान और चीन के प्रोजेक्ट सीपीईसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है।

18 फरवरी 2018

Related Videos

दिल्ली के शिवाजी कॉलेज में शाहिद माल्या की LIVE परफॉर्मेंस

बॉलीवुड के ब्लॉकबस्टर गानों ‘इक कुड़ी’, ‘रब्बा मैं तो मर गया ओए’ और ‘कुक्कड़’ से दिल्ली के शिवाजी कॉलेज की शाम रंगीन हो गई जब इन्हें खुद गाया शाहिद माल्या ने।

18 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen