विज्ञापन
Hindi News ›   Video ›   India News ›   List of journalist and social workers shot dead in india
कट्टरता

पत्रकार गौरी लंकेश ऐसी पहली नहीं जिनकी आवाज दबा दी गई

वीडियो डेस्क, अमर उजाला टीवी/ बेंगलुरु Updated Wed, 06 Sep 2017 04:52 PM IST

कवि राजेश जोशी की एक कविता है. 'जो सच बोलेंगे, मारे जाएंगे, जो इस पागलपन में शामिल नहीं होंगे मारे जाएंगे'।  पिछले कुछ सालों से हिंदुस्तान में पाकिस्तान और बाकी इस्लामिक राष्ट्रों की तरह हिन्दुत्ववादी कट्टरपंथ की आलोचना करने वालों की हत्या कर दी जा रही है। नरेंद्र दाभोलकर, एमएम कलबुर्गी, गोविन्द पानसरे और अब गौरी लंकेश की हत्या कट्टरता के खिलाफ बोलने के कारण कर दी गई।

विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00