आपका शहर Close

साइना का चेहरा तक नहीं देखना चाहती थीं वो...

इंटरनेट डेस्क/विक्रांत चतुर्वेदी

Updated Mon, 22 Oct 2012 05:08 PM IST
saina nehwal journey from being girl to badminton sensation
भारत में बैडमिंटन का पर्याय बन चुकी साइना नेहवाल को आज कौन नहीं जानता लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब उनके परिवार के सदस्य उनका चेहरा नहीं देखना चाहते थे। वक्त है साइना नेहवाल के पैदा होने के समय का उनकी दादी एक लड़का चाहती थी लेकिन हुई लड़की। इससे नाराज उनकी दादी ने एक माह तक उसका मुंह नहीं देखा। लेकिन आज इस खिलाड़ी को देखने और उससे मिलने के लिए लोग खुशी-खुशी घंटों इंतजार करते रहते है।
आज साइना की प्रतिभा को दुनिया मान चुकी है। सर्वप्रथम उसे पहचानने का कार्य बैडमिंटन कोच पीएसएस ननी प्रसाद राव ने किया था। उन्होंने ही साइना के पिता से आग्रह किया था कि इस बच्ची में प्रतिभा है, आप इसे हर कीमत पर खेलना सिखाइए। साइना नेहवाल ने जब बैडमिंटन रैकेट पकड़ा वह आठ साल की थी, और बैडमिंटन इतना लोकप्रिय नहीं था। उस दौरान जिन खिलाड़ियों को इस दुनिया का बादशाह माना जाता था। उनमे प्रकाश पादुकोण का नाम प्रमुख है।

एक दौर ऐसा भी आया जब साइना के पिता के पास उनका खर्च उठाने का पैसा भी नहीं होता था। लेकिन उन्होंने हमेशा अपनी बच्ची का साथ दिया। एक साक्षात्कार के दौरान उन्होंने बताया कि जब वह साइना को स्कूल में पढ़ाने की सोच रहे थे तो कई ऐसे लोग थे, जिन्होंने उन्हें ऐसा न करने की सलाह दी।

पुलेला गोपीचंद अकादमी से साइना को काफी मदद मिली और उनके गुरू ने उनकी प्रतिभा को यहीं से पहचाना वह खुद बताते है कि साइना 16-16 घंटे कोर्ट में रहती है। जब कोर्ट को छोड़ती है तो उसे अगले दिन के अभ्यास का इंतजार होता है। उनके गुरु उनकी क्षमता को भगवान की उस पर कृपा मानते है।

आज साइना कई कंपनियों की ब्रांड एम्बेसडर बन चुकी है। दौलत और शोहरत उनके कदम चूम रही है, लेकिन साइना सिर्फ अपने खेल पर ध्यान दे रही है। यही कारण है कि डेनमार्क ओपन में उनके प्रदर्शन ने उन्हें खिताब दिला दिया। वहीं भारत में क्रिकेट खिलाड़ियों के बाद विज्ञापन जगत को अपनी ओर सबसे ज्यादा जिस खिलाड़ी ने आकर्षित किया है वह साइना नेहवाल है।
 

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Sports news in Hindi related to live update of Sports News, live scores and more cricket news etc. Stay updated with us for all breaking news from Sports and more news in Hindi.

Comments

स्पॉटलाइट

तांबे की अंगूठी के होते हैं ये 4 फायदे, जानिए किस उंगली में पहनना होता है शुभ

  • रविवार, 17 दिसंबर 2017
  • +

शादी करने से पहले पार्टनर के इस बॉडी पार्ट को गौर से देखें

  • रविवार, 17 दिसंबर 2017
  • +

पावर ग्रिड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड में 20 पदों पर वैकेंसी

  • रविवार, 17 दिसंबर 2017
  • +

'छोटी ड्रेस' को लेकर इंस्टाग्राम पर ट्रोल हुईं मलाइका, ऐसे आए कमेंट शर्म आएगी आपको

  • शनिवार, 16 दिसंबर 2017
  • +

Bigg Boss 11: सपना चौधरी के बाद एक और चौंकाने वाला फैसला, घर से बेघर हो गया ये विनर कंटेस्टेंट

  • शनिवार, 16 दिसंबर 2017
  • +

Most Read

दीपिका कुमारी आर्चरी वर्ल्ड कप फाइनल के पहले दौर में ही हारी

deepika kumari lost in first round of archery world cup
  • रविवार, 3 सितंबर 2017
  • +

ISSF वर्ल्ड कप: अमनप्रीत सिंह ने 50 मीटर पिस्टल इवेंट में जीता कांस्य पदक

Amanpreet Singh wins bronze medal in Mens 50m pistol finals event
  • शुक्रवार, 27 अक्टूबर 2017
  • +

इंग्लैंड का बड़ा फुटबॉलर शराब पीकर गाड़ी चलाने के आरोप में गिरफ्तार 

 wayne rooney arrested on drink driving in england
  • शुक्रवार, 1 सितंबर 2017
  • +

सिंधू डेनमार्क ओपन से बाहर, साइना ने मारिन को हराया

 PV sindhu out from denmark open and saina defeat marin
  • शुक्रवार, 20 अक्टूबर 2017
  • +

राजस्थान के देवेंद्र झाझड़िया को मिला खेल रत्न, यह अवार्ड पाने वाले पहले पैरा एथलीट 

Rajasthan's Devendra Jhajadia got the khel ratn award, the first para athlete to get the award
  • मंगलवार, 29 अगस्त 2017
  • +

तिर्वा व उमर्दा बने चैंपियन

Tiruvah and Umarda made champions
  • बुधवार, 20 सितंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!