जानिए, बेइग्टन कप का मैच ध्यानचंद के लिए सबसे यादगार क्यों रहा 

amarujala.com- presented by: शरद मिश्र Updated Wed, 18 Oct 2017 01:12 PM IST
why this was best match for dhyanchand in his carrier
ध्यानचंद - फोटो : The indian express
देश को तीन ओलंपिक में लगातार स्वर्ण पदक दिलाने वाले हॉकी के जादूगर ध्यानचंद ने अपने करियर में कई मैच जीते। लेकिन उन्हें जो मैच उनके पूरे जीवन में सर्वश्रेष्‍ठ लगा वह ओलंपिक का नहीं था। ध्यानचंद को 1933 में खेला गया बेइग्‍टन कप का फाइनल सबसे बेस्ट लगा। यह मैच कलकत्ता कस्टम और झांसी हीरोज के बीच खेला गया था। ध्यानचंद ने इस मैच के बारे में कहा था, 'अगर कोई मुझसे पूछे कि आपको अब तक सबसे बेस्ट मैच कौन सा लगा तो मैं बेझिझक 1933 के विघटन कप को अपना सबसे बेस्ट मैच कहूंगा'।
पढ़ेंः-बेहद संजीदगी से खेल-खेल में विपक्षियों को अनुशासन सिखा देते थे ध्यानचंद

यह मैच ध्यानचंद के सबसे यादगार रहा, इसकी कई वजह थीं। एक तो इस मैच में ध्यानचंद ने कोई भी गोल नहीं किया था। इस मैच को खेलकर वापसी में झांसी हीरोज यानी ध्यानचंद की टीम को ट्रेन की तीसरी श्रेणी के अनारक्षित डिब्बे में सफर करना पड़ा। इन दो वजहों से ध्यानचंद ने इस मैच को अपने करियर का सबसे बेस्ट मैच कहा। 

पढ़ेंः- जानिए, सचिन तेंदुलकर कैसे हो गए भारत रत्न के लिए ध्यानचंद से आगे  

ध्यानचंद ने 1935 में न्यूजीलैंड ऑस्ट्रेलिया के दौरे में 43 मैच खेले गए, जिसमें भारत ने 584 गोल किए। इनमें से 201 गोल ध्यानचंद ने किए थे। 

ध्यानचंद को भारत रत्न दिलाने के लिए हस्ताक्षर करें यहां- goo.gl/hYuwMF

 

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Sports news in Hindi related to live update of Sports News, live scores and more cricket news etc. Stay updated with us for all breaking news from Sports and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Hockey

न्यूजीलैंड में अंडर-19 क्रिकेट टीम को छोड़कर, हॉकी खिलाड़ियों के पास जा पहुंचे राहुल द्रविड

इस समय न्यूजीलैंड में आईसीसी अंडर-19 विश्व कप खेला जा रहा और द्रविड यहां पर भारतीय क्रिकेट टीम के कोच के तौर आए हुए हैं।

16 जनवरी 2018

Related Videos

पीएम नरेंद्र मोदी के मैसूर भाषण की बड़ी बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मैसूर में चुनावी जनसभा की। पीएम मोदी ने कहा कि, मैसूर को सैटेलाइट रेलवे स्टेशन बनाया जाएगा जो वर्ल्ड क्लास का होगा।

19 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen