लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

चार घरों के बुझ गए चिराग: नदी में उतराते बेटों के शवों को देख बदहवास हुए परिजन, नहीं थम रहे आंसू, तस्वीरें

यशवंत बडियारी, अमर उजाला, देवाल(चमोली) Published by: अलका त्यागी Updated Sun, 20 Nov 2022 10:56 AM IST
देवाल में नदी में डूबे चार किशोर
1 of 5
विज्ञापन
चमोली जिले के जीआईसी देवाल के चारों किशोरों की नदी में डूबने से हुई दर्दनाक मौत से चार घरों के दीपक बुझ गए हैं। इनकी मौत से देवाल ब्लॉक के धरातल्ला, इच्छोली, सोड़िग व ओडर गांव में मातम छाया है। नदी में उतराते बच्चों के शवों को देख परिजन बदहवास हो गए। किशोरों के गांवों में चारों तरफ चीख-पुकार मची है। परिजनों को ढाढ़स बंधाने के लिए दिनभर रिश्तेदार और आसपास के गांवों के लोग का तांता लगा रहा।

Chamoli News: देवाल की कैल नदी में डूबने से चार किशोरों की मौत, एक दिन पहले से थे लापता

धरातल्ला गांव का प्रियांशु जीआईसी देवाल में कक्षा 11 में पढ़ता था। वह अपने माता-पिता के साथ इच्छोली गांव में रहता। उसके पिता हाइड्रो कंपनी में अवर अभियंता हैं जबकि माता कलावती देवी धरातल्ला की ग्राम प्रधान है। बेटे की मौत की सूचना मिलने के बाद कलावती देवी बेहोशी की स्थिति में है।

घटना स्थल से चारों शवों को देवाल अस्पताल लाया गया जहां पर प्रियांशु की माता व 93 साल की दादी पार्वती देवी ने अपने नाती के अंतिम दर्शन किए। प्रियांशु की बुजुर्ग दादी के रूदन देख पूरा वातावरण गमगीन हो गया।  
देवाल में नदी में डूबे चार किशोर
2 of 5
सोड़िग गांव के अंशुल भी जीआईसी देवाल में कक्षा 11 में पढ़ता था। अंशुल के पिता की 2016 में देहरादून में एक हादसे में मौत हुई थी। अंशुल अपने पीछे माता व दो बहनों का छोड़ गया। अंशुल की माता अनिता देवी घटना की खबर सुनते ही बेहोश हो गई।
विज्ञापन
देवाल में नदी में डूबे चार किशोर
3 of 5
ओडर गांव के गौरव कक्षा नौ में पढ़ता था। उसकी माता मुन्नी आशा कार्यकर्ता है। वह अपने पीछे माता, पिता व एक बहन छोड़ गया। इच्छोली गांव के अनिल मिश्रा भी अपने पीछे माता-पिता व एक बहन छोड़ गए। चारों की मौत से क्षेत्र में शोक की लहर है। 
देवाल में नदी में डूबे चार किशोर
4 of 5
बताया जा रहा है कि कैल नदी में इन दिनों पानी कम है। लेकिन जहां किशोर डूबे वहां करीब दस फीट गहरा ताल बना हुआ है। हालांकि बाकी नदी में घुटनों तक पानी है। नदी का पानी ठहरा हुआ नहीं है लेकिन ताल में गहराई का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता। लोगों को भी अंदेशा है कि किशोरों को ताल की गहराई का अंदाजा नहीं हुआ होगा और वे डूब गए। 
विज्ञापन
विज्ञापन
देवाल में नदी में डूबे चार किशोर
5 of 5
सूचना पर स्थानीय युवा मौके पर पहुंचे और किशोरों के शवों को नदी से बाहर निकाला। इसी बीच मुन्नी देवी बेटे गौरव का शव देखकर अपना आपा खो बैठी और नदी में कूद गई। इससे नदी किनारे पहुंचे लोगों में हड़कंप मच गया। बिना समय गंवाए क्षेत्र के युवक यशपाल ने नदी में छलांग लगाई और तैरकर मुन्नी देवी को सकुशल बाहर निकाला।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00