एक्सप्रेस-वे पर कार बनी आग का गोला

अमर उजाला ब्यूरो/कन्नौज Updated Sun, 26 Nov 2017 11:50 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
सौरिख। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर फिर एक कार आग का गोला बन गई। चालक की सूझबूझ से कार में बैठे लोग बाल-बाल बच गए। लोगों की सूचना पर पहुंची दमकल  ने कड़ी मशक्कत कर आग बुझाई। मालूम हो कि इससे पहले भी पिछले सप्ताह एक्सप्रेस-वे पर एक कार जल गई थी, जिसमें चार लोग जिंदा जल गए थे। रविवार सुबह जनपद सुल्तानपुर के थाना अलीगंज अंतर्गत ग्राम मोहनपुर निवासी कुलदीप सिंह अपनी निजी कार से लखनऊ से आगरा जा रहे थे। कार में उनके मित्र नितिन अग्रवाल, अखिलेश अग्रवाल और जगतनरायन भी सवार थे। जैसे ही वह आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर निचली गंगनहर पुल पर पहुंचे, तभी कार के इंजन से अचानक धुआं उठने लगा। गाड़ी कुलदीप सिंह चला रहे थे। उन्होंने तत्काल कार खड़ी कर दी। तब तक उसके इंजन से आग की तेज लपटें उठने लगीं।
विज्ञापन

आननफानन में कार सवार लोगों ने खिड़की खोलकर सामान नीचे उतारा, तब तक पूरी कार आग की चपेट में आ गई थी। ग्रामीणों ने घटना की सूचना पुलिस को दी, जिस पर फायरब्रिगेड और पुलिस मौके पर पहुंची। दमकल कर्मियों ने कार में लगी आग का बुझाया, तब तक वह पूरी तरह जलकर राख हो चुकी थी। पुलिस ने जली कार को एनसीसी प्लांट पर लाकर खड़ा कर दिया। इसके बाद कार में सवार लोगों ने कस्बा सौरिख से दूसरी कार किराए पर ले ली और लखनऊ के लिए रवाना हो गए। थानाध्यक्ष रामप्रकाश पांडेय ने बताया कि इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है। इंजन में बैटरी के तारों में स्पार्किंग हुई थी। इसी वजह से उसमें आग लग गई। मालूम हो कि पिछले सप्ताह एक्सप्रेस-वे पर डिवाइडर से टकराने के बाद एक कार में आग लग गई थी, जिसमें बिहार के चार लोग जिंदा जल गए थे और दो लोगों की मौत हो गई थी।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us