विज्ञापन

29 जून को होने वाली बीएड परीक्षा स्थगित

गाजियाबाद/ब्यूरो Updated Thu, 28 Jun 2012 12:00 PM IST
BEd-test-to-be-held-on-June-29-suspended
विज्ञापन
ख़बर सुनें
निकाय चुनाव, कांवड़ यात्रा और कई कॉलेजों का परीक्षा केंद्र बनने से इंकार करने जैसे कारणों को देखते हुए चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय ने बीएड मुख्य परीक्षा को फिलहाल के लिए टाल दिया है। बता दें कि बीएड की मुख्य परीक्षा 29 जून से शुरू होनी थी। संभावना है कि अब 19 जुलाई से दोबारा परीक्षा शुरू कराई जाए। मुश्किल यह है कि बीएड परीक्षा के टलने के कारण अब जब परीक्षाएं शुरू होंगी तो उस समय कॉलेजों में विवि की स्नातक और परास्नातक कोर्सेज की प्रवेश प्रक्रिया भी चरम पर होगी। हालांकि विवि ने बीएड परीक्षा के लिए प्रवेशपत्र भी 27 जून को ऑनलाइन कर दिए।
विज्ञापन
परीक्षा स्थगित करने के लिए प्रमुख वजहों में एक वजह गाजियाबाद में 4 जुलाई को निकाय चुनाव का होना बताया जा रहा है। वहीं, कांवड़ यात्रा के दौरान भी परीक्षा पड़ने से स्टूडेंट्स परीक्षा कार्यक्रम को बदलने की मांग कर रहे थे। 17 जुलाई को शिवरात्रि है, ऐसे में चार पांच दिन पहले ही एनएच-58 पर वाहनों को प्रतिबंधित कर दिया जाता है। कांवड़ यात्रा के बीच में ही दो पेपर पड़ रहे थे। वहीं, कई एडेड और सरकारी कॉलेजों में प्रोफशनल कोर्सेज की परीक्षाएं भी चल रही थीं। इनमें गाजियाबाद, सहारनपुर, मेरठ और नोएडा के कॉलेज शामिल हैं। इन कॉलेजों ने शिक्षकों की कमी का हवाला देकर बीएड परीक्षा के आयोजन से हाथ खड़े कर दिए। ऐसे में विवि को बीएड परीक्षा स्थगित करनी पड़ी। परीक्षा नियंत्रक एचएस सिंह ने बताया कि बीएड परीक्षा स्थगित कर दी गई है। परीक्षा 19 जुलाई से संभावित है और अगस्त प्रथम सप्ताह तक चलेगी। नया कार्यक्रम जल्द ही जारी किया जाएगा। गौरतलब है कि गाजियाबाद और पंचशील नगर के 71 बीएड कॉलेजों के 10584 और बुलंदशहर के 19 बीएड कॉलेजों के 2875 छात्र-छात्राएं परीक्षा में शामिल होंगे।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

कच्चे तेल के भंडार की संभावना पर लगाया जीपीएस

गंगा के तराई वाले इलाकों में कच्चे तेल के भंडार की तलाश कर रही ऑयल एंड नेचुरल गैस कमीशन (ओएनजीसी) की टीम ने तीन दिन में पांच किमी के दायरे में दो स्थानों पर डीप बोरिंग करने के बाद बांगरमऊ के अलेलखेड़ा गांव के पास अपना जीपीएस सिस्टम स्थापित किया।

14 नवंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

बागपत के स्कूल में गैस लीक, 25 बच्चों की तबीयत बिगड़ी

बागपत में गांव छपरौली के एक प्राथमिक स्कूल में गैस सिलेंडर लीक होने का एक मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक मिड डे मील के लिए आया सिलेंडर लीक हो रहा था, गैस लीकेज इतनी ज्यादा थी कि बच्चों की तबीयत बिगड़ने लगी।

6 मई 2017

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree