पीयू के खस्ता हालत मकानों की रेनोवेशन शुरू

अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Thu, 21 Nov 2013 08:52 AM IST
विज्ञापन
PU_Houses_poor condition_renovation

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
पंजाब यूनिवर्सिटी कैंपस में सालों से खस्ता हालत मकानों में रहने वाले कर्मचारियों को राहत मिली है। पीयू प्रशासन ने सी और डी कैटेगरी के मकानों की रेनोवेशन का काम शुरू कर दिया है।
विज्ञापन

अमर उजाला ने ही कुछ दिन पहले कर्मचारियों के मकानों की खस्ता हालत को लेकर सबसे पहले खबर प्रकाशित की थी। बुधवार से पीयू के कंस्ट्रक्शन विभाग ने ए ब्लॉक में रेनोवेशन का काम शुरू कर दिया है।
पंजाब यूनिवर्सिटी के सी और डी कैटेगरी के मकान 60 साल पहले बने थे। लेकिन अभी तक इन मकानों की एक बार भी रेनोवेशन नहीं हुई। कई सरकारी मकानों की हालत तो इतनी खस्ता हालत है कि कभी भी मकान की दीवारें गिर सकती है।
अमर उजाला में खबर प्रकाशित होने के बाद पीयू के आला अधिकारियों ने पीयू एक्सईन और अन्य संबंधित अधिकारियों से जवाब तलब किया है।

मामले की गंभीरता को देखते हुए पीयू के सभी मकानों की स्थिति का जायजा लेने के लिए एसडीओ और अन्य कर्मचारियों को आदेश जारी किए गए हैं। हफ्ते भर के अंदर मकानों की रिपेयर को लेकर जरुरी फंड को लेकर जानकारी आला अधिकारियों को देनी होगी।

पीयू सी क्लास एसोसिएशन प्रधान उमा शंकर ने कहा कि मकानों की हालत काफी खराब हो चुकी है। उन्होंने कहा कि पीयू को पुराने मकानों की जगह पर नए फ्लैट तैयार करने चाहिए। 
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us