बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

महीने भर सजोए जो सपने, पल भर में टूट गए

ब्यूरो/अमर उजाला, देहरादून Updated Fri, 03 Apr 2015 01:39 PM IST
विज्ञापन
merit list of national talent search exam.

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा 2015 की राज्य स्तरीय मेरिट लिस्ट में स्थान बनाने वाले प्रदेश के सात होनहार एक महीने बाद ही बाहर हो गए हैं। कट ऑफ मार्क्स बढ़ने से मेरिट लिस्ट भी छोटी हो गई है।
विज्ञापन


पहले 54 छात्रों की मेरिट लिस्ट बनाई गई थी, जिसे अब घटाकर 49 कर दिया गया है। मेरिट लिस्ट में संशोधन से सात छात्रों के साथ मजाक जैसा हो गया।

एससीईआरटी (स्टेट काउंसिल ऑफ एजुकेशन, रिसर्च एंड ट्रेनिंग) की ओर से दो नवंबर 2014 को राष्ट्रीय प्रतिभा खोज का पहला (राज्य स्तरीय) चरण कराया गया था। इसमें कक्षा 10 में पढ़ रहे छात्र सम्मिलित होते हैं।


पहले चरण में सफल छात्र ही राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा के लिए क्वालीफाई करते हैं। 21 फरवरी 2015 को परीक्षा का परिणाम घोषित किया गया। कट ऑफ मेरिट 109 अंक घोषित की गई और प्रदेश के 54 होनहार छात्रों ने इसमें सफलता हासिल की।

इनमें से 43 छात्र सामान्य वर्ग और 11 छात्र आरक्षित श्रेणी के थे। परिणाम आने के बाद हरिद्वार के एक छात्र आशुतोष राठी के पिता समीर राठी की ओर से दो प्रश्नों के उत्तरों पर आपत्ति जाहिर की गई।

जिसके बाद एक प्रश्न के उत्तर को बदलते हुए एससीईआरटी की ओर से 31 मार्च को संशोधित रिजल्ट जारी कर दिया गया। लेकिन इस बार कट ऑफ मार्क्स 109 से बढ़ाकर 110 कर दिए गए और चयनित छात्रों की संख्या 54 से घटाकर 49 हो गई।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

मेरिट बदलने से 7 छात्र हो गए बाहर

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us