एक साथ रिसर्च करेंगे साइंस और आर्ट के स्टूडेंट

आशीष त्रिवेदी/लखनऊ Updated Wed, 27 Nov 2013 01:53 AM IST
विज्ञापन
inter diciplinary reseach center will open in lucknow university

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
एलयू अब इंटर डिसिप्लिनरी रिसर्च का हब बनेगा। विश्वविद्यालय में ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉरपोरेशन (ओएनजीसी) की मदद से 20 करोड़ रुपये की लागत से सेंटर फॉर एडवांस रिसर्च सेंटर बनाया जाएगा।
विज्ञापन

ओएनजीसी ने इसके लिए 10 करोड़ रुपये की पहली किश्त जारी कर दी है। मंगलवार को एलयू के पांच नंबर गेट के पास इस एडवांस रिसर्च सेंटर की बिल्डिंग बनाने का काम शुरू कर दिया गया।
अधिकारियों के अनुसार यहां विज्ञान व कला के स्टूडेंट आपस में मिलकर रिसर्च करेंगे। जिसका फायदा सोसाइटी व इंडस्ट्री दोनों को होगा।
ओएनजीसी ने कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसबिलिटी (सीआरएस) के तहत लविवि में एडवांस रिसर्च सेंटर बनाने का निर्णय लिया है। गेट नंबर पांच के पास बनने वाले इस अत्याधुनिक रिसर्च सेंटर की दो मंजिला बिल्डिंग होगी।

बिल्डिंग में मिनी ऑडिटोरिया और अलग-अलग विषयों के अनुसार इंस्टूमेंट रूम बनाए जाएंगे। फर्स्ट फ्लोर पर भारी इंस्टूमेंट और सेकंड फ्लोर पर हल्के इंस्टूमेंट रखे जाएंगे।

इसमें साइंस के डिपार्टमेंट अपने-अपने विषयों में तो रिसर्च करेंगे ही। साथ ही कला के विषयों से जुड़कर इंटर डिस्पिलिनरी रिसर्च कर सकेंगे।

अधिकारियों के अनुसार अगर भूगर्भ विज्ञान के विशेषज्ञ व भूगोल और इतिहास विषय के एक्सपर्ट एक साथ मिलकर रिसर्च करेंगे तो निश्चित तौर पर अच्छे नतीजे सामने आएंगे।

इससे एलयू में साइंस, आर्ट्स व अन्य फैकल्टी को काफी फायदा होगा। इस एडवांस रिसर्च सेंटर में रिसर्च के लिए उच्च स्तरीय सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।

ऐसी मशीनें जिन्हें एलयू अपने बजट से नहीं खरीद सकता वे यहां खरीदी जाएंगी। इससे एक्सपर्ट को रिसर्च करने में आसानी होगी। यहीं नहीं ओएनजीसी को भी यहां पर जियोलॉजी विभाग द्वारा किए जाने वाले रिसर्च से काफी फायदा मिलेगा।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us