विज्ञापन
विज्ञापन

कैंपस प्लेसमेंट के लिए डीयू पहुंची कंपनियां

ब्यूरो/अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Thu, 06 Nov 2014 08:55 AM IST
campus placement in delhi university
ख़बर सुनें
दिल्ली विश्वविद्यालय में कैंपस प्लेसमेंट के पहले दौर में बुधवार को तीन कंपनियां छात्रों को नौकरी की पेशकश के लिए पहुंचीं। तीनों कंपनियों के समक्ष करीब 300 छात्र उपस्थित हुए। सोमवार तक कंपनियां फाइनल चयन के विषय में डीयू प्रशासन को जानकारी देंगी।
विज्ञापन
सेंट्रल प्लेसमेंट सेल (सीपीसी) से जुड़े अधिकारियों के मुताबिक, कैंपस प्लेसमेंट के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया अगले आदेश तक जारी रहेगी। बुधवार प्लेसमेंट में हिस्सा लेने के लिए कंसल्टिंग फर्म लीची नॉलेज सेंटर, एक्सपर्ट इंटिलेक्चूअल सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड, ईएक्सएल सर्विस कंपनी कैंपस पहुंची।

लीची नॉलेज सेंटर के समक्ष बिजनेस डेवलपमेंट एक्जीक्यूटिव पद के लिए छात्र उपस्थित हुए, जबकि  एक्सपर्ट इंटिलेक्चुअल सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड क्रिएटिव राइटर और एकेडमिक कॉर्डिनेटर के लिए छात्रों का चयन करेगी। बताया जा रहा है कि दोनों कंपनियों ने छात्रों को लगभग फाइनल चयन कर लिया है। इन कंपनियों ने 3.6 से लेकर 4.8 लाख रुपये तक पैकेज रखा है।

वहीं ईएक्सएल कंपनी अभी साक्षात्कार राउंड करेगी। यह कंपनी कस्टमर केयर एक्जीक्यूटिव के रूप में छात्रों का चयन करेगी। कंपनी इनसेंटिव छोड़कर सालाना दो लाख का पैकेज देगी।

अधिकारी उम्मीद कर रहे हैं कि उपस्थित छात्रों में से कम से कम 50 का चयन कंपनियां करेंगी। गौरतलब है कि बीते सितंबर से सीपीसी के तहत होने वाले प्लेसमेंट के लिए पंजीकरण प्रक्रिया जारी है। अभी तक लगभग 5000 रजिस्ट्रेशन हो चुके हैं।
विज्ञापन

Recommended

सब कुशल मंगल के ट्रेलर लॉन्च इवेंट में गूंजे दर्शकों के ठहाके
सब कुशल मंगल

सब कुशल मंगल के ट्रेलर लॉन्च इवेंट में गूंजे दर्शकों के ठहाके

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

हिमाचल के सेब बगीचों पर वूली एफिड की मार, विशेषज्ञों ने दी ये सलाह

हिमाचल के सेब उत्पादित क्षेत्रों में वूली एफिड की मार पड़ी है। इससे बागवान चिंतित हो गए हैं।

28 नवंबर 2019

विज्ञापन

कैसे और कहां तैयार होता है फांसी का फंदा, जानिए सारे सवालों के जवाब

जल्दी ही निर्भया के दोषियों को फांसी के फंदे पर लटकाया जाएगा। फांसी का ये फंदा बनता कैसे है, कहां इसे तैयार किया जाता है, देखिए ये रिपोर्ट

8 दिसंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls
Niine

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election