ऐसी महिलाओं को गर्भधारण में होती है दिक्कतें

नई दिल्ली/इंटरनेट डेस्क Published by: Updated Wed, 10 Jul 2013 05:40 PM IST
विज्ञापन
night shift duty can harm women fertility

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
क्या आप यकीन करेंगे कि किसी महिला का रात की शिफ्ट में काम करना उसके बांझपन का कारण बन जाए। लेकिन यह सच है। महिलाओं में बांझपन न सिर्फ हार्मोनल समस्याओं और तनाव के कारण बल्कि गलत जीवनशैली के चलते भी हो सकता है। उनका रात की शिफ्ट में काम करना इसका एक बड़ा कारण हो सकता है।
विज्ञापन


हाल में एक शोध में यह पाया गया है कि रात की शिफ्ट में काम करने वाली महिलाओं में गर्भवती होने की संभावना पर 80 प्रतिशत तक नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

साउथहैंपटन यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने अपने शोध में माना है कि रात की शिफ्ट में काम करने वाली महिलाओं को फर्टिलिटी से जुड़ी समस्याएं, जैसे अनियमित पीरियड्स, गर्भपात आदि समस्याएं अधिक होती हैं जिससे उनके गर्भवती होने की संभावना कम हो जाती है।


शोधकर्ताओं ने अपने अध्ययन के आधार पर माना है कि जो महिलाएं रात की शिफ्ट में काम करती हैं उनमें अनियमित पीरियड्स की आशंका 33 प्रतिशत अधिक होती है जबकि गर्भपात का खतरा 29 प्रतिशत बढ़ जाता है।

शोध के दौरान करीब एक लाख महिलाओं पर अध्ययन किया गया जिसमें पाया गया कि रात की शिफ्ट में काम करने वाली महिलाओं को गर्भ धारण करने में अपेक्षाकृत अधिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

शोधकर्ता डॉ. लिंडेन स्टॉकर का मानना है कि इसकी वजह उनकी बॉडी क्लॉक में होने वाले बदलाव, खाने और सोने की अनियमितता हो सकती है जो शरीर में हार्मोन के निर्माण, ब्लड प्रेशर आदि को प्रभावित करती है।

वह बताती हैं, 'रात की शिप्ट में नौकरी के दौरान अगर खानपान और व्यायाम पर ध्यान दिया जाए तो इस रिस्क को कुछ हद तक कम भी किया जा सकता है।'  नौकरी छोड़ देने से उनकी इस समस्या का हल संभव है, इस बारे में अभी उनके पास पर्याप्त जानकारी नहीं है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें  लाइफ़ स्टाइल से संबंधित समाचार (Lifestyle News in Hindi), लाइफ़स्टाइल जगत (Lifestyle section) की अन्य खबरें जैसे हेल्थ एंड फिटनेस न्यूज़ (Health  and fitness news), लाइव फैशन न्यूज़, (live fashion news) लेटेस्ट फूड न्यूज़ इन हिंदी, (latest food news) रिलेशनशिप न्यूज़ (relationship news in Hindi) और यात्रा (travel news in Hindi)  आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़ (Hindi News)।  

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X