टाइम बम जैसी है सेक्स शिक्षा की कमी

कैथरीन सेलग्रेन, बीबीसी Updated Fri, 17 Feb 2017 05:34 PM IST
"The lack of sex education is like a time bomb"
भारत के स्कूलों में तो सेक्स की पढ़ाई अभी नाम मात्र की होती है लेकिन ब्रिटेन में भी इसे लेकर चिंता बढ़ गई है। जानकार तो मान रहे हैं कि सेक्स की पढ़ाई ना होने से पैदा हुई स्थिति "टाइम बम जैसी है जिसकी टिक टिक सुनाई दे रही है।" ये हालत तब है जब ब्रिटेन के ज्यादातर स्कूलों में सेक्स की अनिवार्य पढ़ाई होती है।

इंग्लैंड में स्थानीय सरकारों के संघ, एलजीए यानी लोकल गवर्नमेंट एसोसिएशन का मानना है कि सभी सरकारी सेंकेंडरी स्कूलों में सेक्स की अनिवार्य पढ़ाई होनी चाहिए। संघ का कहना है कि छात्रों को जवान होने के लिए तैयार नहीं किया जा रहा है और ऐसे में उनके यौन संक्रमण का शिकार होने का खतरा है।

एलजीए का कहना है कि उचित उम्र में सभी छात्रों के लिए यौन शिक्षा को उनके पाठ्यक्रम का जरूरी हिस्सा बनाया जाना चाहिए, लेकिन फिलहाल अभिभावकों के पास यह विकल्प है कि वो अपने बच्चे को इससे दूर रख सकें। आधिकारिक आंकड़े बताते हैं कि 2015 में इंग्लैंड के 78,066 लोग यौन संक्रमण के शिकार हुए।

ये संख्या 15-19 साल की उम्र के बच्चों की है। 20-24 साल के युवाओं में यह तादाद 141,260 थी। सार्वजनिक स्वास्थ्य की जिम्मेदारी स्थानीय प्रशासन की है और उसके मुताबिक हर साल करीब 60 करोड़ पाउंड यौन स्वास्थ्य पर खर्च हो रहे हैं।

सेक्स शिक्षा से असंतुष्ट युवा
15 साल की एक लड़की ने कहा, "हममें से बहुत सारे 16 की उम्र में पहुंच रहे हैं जो सेक्स के लिए कानूनी उम्र है, हमारे लिए ये जानना जरूरी है कि रिश्तों में क्या अनुचित है।" 15 साल के एक लड़के ने कहा, "सेक्स को अब भी वर्जित विषय माना जाता है और टीचर इसके बारे में बात करने में असहज हैं।

इस विषय को बिल्कुल जीव विज्ञान की तरह पढ़ा दिया जाता है जिसमें रिश्तों के बारे में बात नहीं होती और सब कुछ बस कुछ ही अध्यायों में ड्रग्स एजुकेशन के साथ सत्र के अंत में निबटा दिया जाता है।"
आगे पढ़ें

समस्या है उन स्कूलो के लिए जिन्हें केंद्र सरकार चलाती है।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

India News

जस्टिस लोया केस: बेंच में बड़ा बदलाव, चार जजों के विरोध के बाद अब खुद सुनवाई करेंगे CJI

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा सीबीआई के विशेष जज बीएच लोया की मौत से जुड़े केस की सुनवाई करेंगे।

20 जनवरी 2018

Related Videos

आनंदीबेन पटेल बनेंगी इस राज्य की गवर्नर, देखिए उनका राजनीतिक सफर

गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री आनंदी बेन पटेल मध्यप्रदेश की राज्यपाल होंगी। खबरों की माने तो आनंदी बेन पटेल की हामी के बाद उनके नाम की घोषणा की गई हैं। अमर उजाला टीवी की खास पेशकश में देखिए, कैसा रहा आंदनी बेन पटेल का राजनीतिक सफरनामा।

20 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper