सरस्वती नदी की सफाई के दौरान मिले हड़प्पा से भी पहले के अवशेष

amarujala.com {Presented by: पवन नाहर} Updated Sun, 05 Mar 2017 01:56 AM IST
Pre Harappan Remnants Found While saraswati excavation
सरस्वती नदी - फोटो : twitter
सरस्वती नदी की सफाई के दौरान कर्मचारियों को हड़प्पा सभ्यता से भी पहले के अवशेष मिले हैं। माना जा रहा है कि यह अवशेष 6 हजार साल से भी ज्यादा पुराने हैं। फतेहाबाद के उपायुक्त एन के सोलंकी ने कहा कि नदी की सफाई के दौरान प्राप्त हुए कुछ अवशेश 3500 साल कर पुराने हो सकते हैं और कुछ का ताल्लुक 5 से 6 हजार साल पहले से हो सकता है।

प्राप्त हुए अवशेषों में गहने, मोती और हड्डियां शामिल हैं। इन्हें कुणाल गांव के म्युजियम में रखा गया है। उपायुक्त ने संभावना जताई की नदी यहां से भी बहा करती थी।

इन बातों की कोई पुष्टि नहीं हुई है। हालांकि, सैटालाइट तस्वीरों में इस बात को साफ दिखाया जाता है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और राज्य पुरातत्व और संग्रहालय मंत्री राम बिलास शर्मा के निर्देशानुसार ही यह कार्य शुरू हुआ था।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

India News

AAP विधायकों के मामले पर बोले कुमार विश्वास- CM के विशेषाधिकार की वजह से रहा चुप

आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास ने 20 AAP विधायकों के खिलाफ कार्रवाई मामले में सीएम अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है।

20 जनवरी 2018

Related Videos

गणतंत्र दिवस परेड में पहली बार दिखेगा ‘रुद्र’ का जलवा

भारतीय वायुसेना की शान रुद्र पूरी तरह तैयार है गणतंत्र दिवस पर अपना जलवा दिखाने के लिए। पहली बार ये देश के सामने आने वाला है। देश में ही बने रुद्र ने अपने अंदर ढेरों खूबियां समेटी हुई है।

20 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper