आयकर संशोधित बिल को लेकर विपक्ष ने की राष्ट्रपति से शिकायत 

टीम डिजिटल/ अमर उजाला, दिल्ली Updated Thu, 01 Dec 2016 11:21 PM IST
Opposition meets Prez over IT amendment act
opposition
नोटबंदी के बाद कांग्रेस समेत 16 विपक्षी दलों ने बृहस्पतिवार को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाकात कर आयकर संशोधित बल को संसद से पास कराने के सरकार के तौर तरीकों पर सवाल उठाया। विपक्षी पार्टियों ने राष्ट्रपति से हस्तक्षेप की मांग की।
मुलाकात के बाद राहुल गांधी ने कहा कि सरकार विपक्ष की आवाज दबा रही है। बिना चर्चा के बिल को पास कराया गया। विपक्षी दलों ने राष्ट्रपति को इस मुद्दे पर ज्ञापन भी सौंपा। तृणमूल कांग्रेस ने राष्ट्रपति से इस मसले पर हस्तक्षेप की मांग की।

वहीं कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, हमने राष्ट्रपति से शिकायत की है। लोगों में डर है। नोटबंदी के बाद सरकार आयकर संशोधित बिल लायी है। बिना चर्चा के बिल को पास कराया जा रहा है।

प्रधानमंत्री संसद में कम और बाहर ज्यादा बोल रहे हैं। 16 विपक्षी पार्टियों में सपा, बसपा, वामदल, तृणमूल कांग्रेस, राजद, जदयू, अन्नाद्रमुक समेत कई विपक्षी दल शामिल थे। सपा नेता रामगोपाल यादव ने कहा कि संसद के नियमों को ताक पर रखकर बिल को जबरन पास कराया गया। राज्यसभा में भी मनी बिल के तौर पर लाकर उच्च सदन को नजरअंदाज किया गया। 

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

India News

'गीतांजलि' कर्मचारियों को ई-मेल कर मेहुल ने कहा- अब वेतन दे पाना मुश्किल, मेरे खिलाफ अन्याय का माहौल

तमाम जांच एजेंसियों ने ऐसा माहौल खड़ा कर दिया है कि भारत में उसका व्यवसाय चौपट हो गया है।

24 फरवरी 2018

Related Videos

खाने के लिए चावल क्या चुराया भीड़ ने पीट पीटकर ले ली जान

केरल के पलक्कड़ में भीड़ ने एक युवक को पीट पीटकर मार डाला। उस पर चावल चुराने का आरोप था। लोगों की बेशर्मी ये रही कि युवक के साथ वो सेल्फी भी लेते रहे वीडियो बनाते रहे। मामले के तूल पकड़ने पर सीएम ने जांच के आदेश दे दिए हैं।

23 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen