लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Derek O Brien Claims Trinamool Congress Saket Gokhale Detained case over Morbi bridge tweet

Gujarat: हिरासत में लिए गए TMC के प्रवक्ता साकेत गोखले, मोरबी हादसे पर पीएम मोदी को बदनाम करने का आरोप

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, अहमदाबाद Published by: संजीव कुमार झा Updated Tue, 06 Dec 2022 02:33 PM IST
सार

तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता और ममता बनर्जी के करीबी साकेत गोखले को गुजरात पुलिस ने सोमवार को राजस्थान के जयपुर एयरपोर्ट से हिरासत में ले लिया।

साकेत गोखले
साकेत गोखले - फोटो : Facebook/Saket Gokhale

विस्तार

तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता और ममता बनर्जी के करीबी साकेत गोखले को गुजरात पुलिस ने सोमवार देर रात राजस्थान के जयपुर एयरपोर्ट से हिरासत में ले लिया। गोखले पर मोरबी हादसे पर प्रधानमंत्री मोदी के बारे में गलत खबर फैलाने का आरोप है। हिरासत की जानकारी उनकी पार्टी के सहयोगी और राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने दी। ओ ब्रायन ने ट्वीट करते हुए लिखा कि टीएमसी के राष्ट्रीय प्रवक्ता साकेत गोखले को गुजरात पुलिस ने जयपुर एयरपोर्ट से हिरासत में ले लिया। सोमवार को गोखले ने नई दिल्ली से जयपुर के लिए रात नौ बजे की फ्लाइट ली थी। जब वह उतरे तो गुजरात पुलिस, जयपुर एयरपोर्ट पर उसका इंतजार कर रही थी और उन्हें गिरफ्तार कर लिया।



मां से बात करने के बाद गोखले का फोन और सामान जब्त
ओ ब्रायन के अनुसार हिरासत के बाद गोखले ने मंगलवार की सुबह दो बजे अपनी मां को फोन किया और बताया कि गुजरात पुलिस उसे अहमदाबाद ले जा रही है और वह आज दोपहर तक अहमदाबाद पहुंच जाएंगे। पुलिस ने उन्हें मात्र दो मिनट का फोन कॉल करने दिया और फिर उनका फोन और उसका सारा सामान जब्त कर लिया। 


मोरबी हादसे पर पीएम मोदी को बदनाम करने का आरोप
एक दिसंबर, 2022 को, TMC के प्रवक्ता साकेत गोखले ने दावा किया था कि पुल ढहने की घटना के बाद गुजरात में पीएम मोदी की मोरबी यात्रा के लिए केवल कुछ घंटों के लिए 30 करोड़ रुपये खर्च किए गए थे। तथाकथित रिपोर्ट का हवाला देते हुए गोखले ने दावा किया था कि 5.5 करोड़ रुपये विशुद्ध रूप से  स्वागत, कार्यक्रम प्रबंधन और फोटोग्राफी के लिए थे। उन्होंने यह भी दावा किया कि मोदी के इवेंट मैनेजमेंट और पीआर की कीमत 135 लोगों के जीवन से अधिक है। क्योंकि त्रासदी के 135 पीड़ितों के परिवारों को प्रत्येक को केवल 4 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी गई। 



गुजरात भाजपा ने बताया था फेक न्यूज
हालांकि, गुजरात भाजपा ने गोखले के ट्वीट पर दी गई जानकारी को फेक न्यूज बताया था। गुजरात भाजपा ने कहा कि इस तरह की कोई RTI दाखिल नहीं की गई थी और न ही किसी आरटीआई का ऐसा कोई जवाब दिया गया। भाजपा गुजरात ने ट्विटर पर पोस्ट करते हुए लिखा था कि नई क्लिपिंग मनगढ़ंत है, और वास्तव में ऐसी कोई रिपोर्ट कहीं भी प्रकाशित नहीं हुई थी।

मोरबी में ब्रिज टूटने से 135 लोगों की मौत
बता दें कि अक्तूबर में मोरबी शहर में ब्रिज के टूटने के कारण कुल 135 लोगों की मौत हो गई, जिसमें 55 बच्चे भी शामिल थे। इस दुर्घटना में 100 लोग अकेले मोरबी जिले के रहने वाले थे।  

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00