महाराष्ट्र: तृप्ति देसाई के खिलाफ रंगदारी का मामला दर्ज

ब्यूरो/अमर उजाला, मुंबई Updated Fri, 07 Jul 2017 01:05 AM IST
Case Filed against president of Bhumata Brigade Tripti Desai
तृप्ति देसाई - फोटो : ANI
महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में स्थित सुप्रसिद्ध शनि शिंगणापुर के शनि मंदिर और मुंबई के हाजी अली दरगाह में महिलाओं को प्रवेश दिलाने वाली तृप्ति देसाई और उनके पति के खिलाफ एक शख्स से मारपीट और लूट का मामला दर्ज कराया है। पुणे की हिंजवाड़ी पुलिस ने तृप्ति के खिलाफ रंगदारी का मामला दर्ज किया है।
पुणे की हिंजवड़ी पुलिस के मुताबिक 27 जून को सुबह 11 बजे विकास मकासरे नामक व्यक्ति अपनी कार से जा रहा था। इसी दौरान बालेवाड़ी में तृप्ति देसाई, प्रशांत देसाई सतीश देसाई, कांतीलाल गवारे और अन्य दो लोगों ने विकास को रोका और सभी ने डंडे और लोहे के राड से उसकी पिटाई की।

पुलिस को दी शिकायत में विकास ने कहा है कि प्रशांत देसाई ने उनके गले से सवा तोले की सोने की चेन खींची और जेब में रखे 27 हजार रुपये भी लूट लिए। उसके बाद तृप्ति देसाई ने धमकी दी कि अगर हमारे विरोध में कोई शिकायत दर्ज कराई तो तुम्हें झूठे मुकदमे में फंसाऊंगी। वहीं, तृप्ति देसाई ने सफाई दी है कि इस तरह की कोई घटना नहीं हुई है। उनके खिलाफ झूठा आरोप लगाया गया है।

पुणे की तृप्ति देसाई भूमाता ब्रिगेड की संस्थापक अध्यक्ष हैं। वह प्रसिद्ध समाजसेवी अन्ना हजारे के साथ कई सामाजिक कार्यों में हिस्सा ले चुकी हैं। महाराष्ट्र के शिंगणापुर स्थित शनि मंदिर में महिलाओं को प्रवेश करने और पूजा के अधिकार के लिए आंदोलन किया था। इसके अलावा तृप्ति ने मुंबई के हाजी अली दरगाह,  नासिक के त्रयंबकेश्वर, कपालेश्वर मंदिर और कोल्हापुर के महालक्ष्मी मंदिर में महिलाओं के प्रवेश देने की मांग को लेकर भी आंदोलन किया था।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

India News

भारत में जन्म के 28 दिनों के भीतर 6 लाख नवजातों की होती है मौत: यूनिसेफ

दुनिया में नवजात बच्चों की मृत्यु दर की स्थिति बेहद चिंताजनक है। हर साल जन्म के 28 दिन के भीतर 26 लाख बच्चे दम तोड़ देते हैं।

20 फरवरी 2018

Related Videos

पीएनबी घोटाले पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने तोड़ी चुप्पी, कहा...

पीएनबी घोटाले पर वित्ति मंत्री अरुण जेटली ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि, धोखेबाजों को सरकार नहीं छोड़ेगी। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने ऑडिटर्स, मैनेजमेंट और निगरानी एजेंसियों पर सवाल उठाए हैं।

21 फरवरी 2018

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen