Hindi News ›   India News ›   Asteroid giant 2020nd is bigger than london eye nasa gives warning by saying it is potentially hazardous

धरती की तरफ तेजी से बढ़ रहा है विशालकाय एस्टेरॉयड, नासा ने जारी की चेतावनी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: Sneha Baluni Updated Sun, 19 Jul 2020 01:35 PM IST
एस्टेरॉयड (फाइल फोटो)
एस्टेरॉयड (फाइल फोटो) - फोटो : NASA
विज्ञापन
ख़बर सुनें

नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) ने चेतावनी जारी की है कि एक विशाल एस्टेरॉयड तेजी से पृथ्वी की तरफ आ रहा है। यह 24 जुलाई को पृथ्वी के नजदीक से गुजरेगा। नासा ने कहा कि इसके अलावा दो और एस्टेरॉयड के रविवार को हमारे ग्रह के पास से गुजरने की संभावना है।

विज्ञापन


नासा ने इन दो एस्टेरॉयड को 2016 डीवाई-30 और 2020 एमई-3 नाम दिया है। नासा ने एक बयान में कहा कि पृथ्वी के करीब आने के खतरे को देखते हुए संभावित रूप से खतरनाक एस्टेरॉयड को वर्तमान में उन मापदंडों के आधार पर परिभाषित किए गए हैं जो एस्टेरॉयड की क्षमता को मापते हैं। 


नासा के अनुसार, एस्टेरॉयड 2020 एनडी लगभग 170 मीटर लंबा है जो हमारे ग्रह के 0.034 खगोलीय इकाइयों (5,086,328 किलोमीटर) के करीब है। एस्टेरॉयड 48,000 किलोमीटर प्रति घंटे की तेज गति से यात्रा कर रहा है। पृथ्वी से दूरी इस एस्टेरॉयड को संभावित रूप से खतरनाक के रूप में वर्गीकृत करती है।





नासा ने आगे कहा कि 2016 डीवाई-30 पृथ्वी की दिशा में 54,000 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से चल रहा है जबकि 2020 एमई-3 16,000 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से यात्रा कर रहा है। 2016 डीवाई-30 दोनों में सबसे छोटा एस्टेरॉयड है क्योंकि यह 15 फीट चौड़ा है।

नासा के सेंटर फॉर नियर-अर्थ ऑब्जेक्ट स्टडीज (सीएनईओएस) ने खुलासा किया है कि 2016 डीवाई-30 की पृथ्वी से अपेक्षित दूरी लगभग 0.02306 खगोलीय इकाइयां हैं जो 3.4 मिलियन किलोमीटर की दूरी पर है। बड़े एस्टेरॉयड का निकटतम दृष्टिकोण 19 जुलाई को सुबह 10:02 बजे होगा। इसे अपोलो एस्टेरॉयड के रूप में वर्गीकृत किया गया है क्योंकि यह सूर्य के चारों ओर यात्रा करते समय पृथ्वी के मार्ग को पार करता है।

छोटे एस्टेरॉयड 2020 एमई-3 की पृथ्वी से अपेक्षित दूरी लगभग 0.03791 खगोलीय इकाइयां हैं जो 5.6 मिलियन किलोमीटर की दूरी पर है। इसे अमोर एस्टेरॉयड के रूप में वर्गीकृत किया गया है क्योंकि यह पृथ्वी के मार्ग को पार नहीं करता है और केवल कई अवसरों पर पृथ्वी के करीब उड़ता है। हालांकि, ये दो एस्टेरॉयड हमारे ग्रह के लिए खतरा नहीं माने जाते हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00