लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Article 370: Imran Khan is feeling alone in its country people raising slogans against him

अपने ही घर में घिरे इमरान, लग रहे हैं 'मोदी से तू डरता है, मरियम से तू लड़ता है' के नारे

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: Sneha Baluni Updated Sat, 10 Aug 2019 09:11 AM IST
नरेंद्र मोदी-इमरान खान-मरियम नवाज
नरेंद्र मोदी-इमरान खान-मरियम नवाज - फोटो : Facebook
ख़बर सुनें

भारत सरकार ने जब से कश्मीर से अनुच्छेद 370 के पहले खंड को छोड़कर बाकी सभा को खत्म किया है तब से पड़ोसी देश पाकिस्तान में खलबली मच गई है। उसकी बौखलाहट और बेचैनी साफ दिखाई दे रही है। इसी झल्लाहट में उसने समझौता एक्सप्रेस को वाघा सीमा पर छोड़ दिया। इसके बाद उसने थार एक्सप्रेस और दोनों देशों के बीच चलने वाली बस सेवा को भी रद्द कर दिया है। वहीं पाकिस्तान में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज को गिरफ्तार किया गया है। जिसके बाद से इमरान खान अपने घर में बुरी तरह से घिर गए हैं।



खान ने जम्मू-कश्मीर पर भारत सरकार के फैसले पर आगे की रणनीति तय करने के लिए छह अगस्त को संसद का संयुक्त सत्र बुलाया था। जब वह संसद में कश्मीर मसले को लेकर जवाब दे रहे थे तो उनके हाव-भाव में बौखलाहट नजर आ रही थी। संसद में विपक्षी नेता शाहबाज शरीफ के सवालों का जवाब देते हुए खान अपना आपा खो बैठे और उन्होंने विपक्ष से ही सलाह मांगते हुए कहा कि आप बताएं कश्मीर को लेकर उनकी सरकार को क्या कदम उठाने चाहिए। कहा जा रहा है कि पाकिस्तान की जनता का कश्मीर से ध्यान हटाने के लिए मरियम नवाज को गिरफ्तार किया गया है। 


मरियम नवाज की गिरफ्तारी के बाद वहां की जनता खान के खिलाफ सड़क पर उतर आई है। महिलाएं विरोध प्रदर्शन कर रही हैं। पाकिस्तान की सड़कों पर 'मोदी से तू डरता है, मरियम से तू लड़ता है' के नारे लगाए जा रहे हैं। इसके अलावा पड़ोसी देश की जनता 'नियाजी गो बैक, नियाजी गो बैक' के भी नारे लगा रही है। 

मोदी सरकार के अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले पर जवाब देते हुए खान ने कहा कि आखिर मैंने कौन सा कदम नहीं उठाया है। हमारा विदेश मंत्रालय सभी देशों के राजदूतों के साथ बैठक कर रहा है। मैं दूसरे देशों के संपर्क में हूं। अतंरराष्ट्रीय मंच से मदद मांगी जा रही है। पाकिस्तान में इसे बहुत बड़ी हार माना जा रहा है। वहां की मीडिया ने इसकी तुलना 1971 की हार से की है। पाकिस्तान में इसे बड़ी कूटनीतिक हार के तौर पर लिया जा रहा है।

पाकिस्तानी मीडिया जो दो हफ्ते पहले तक इमरान खान और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मुलाकात का महिमामंडन कर रहा था, इसे इमरान का मास्टर स्ट्रोक बता रहा था। वही अब इसे उनकी हार बता रहा है। देश में खान की फजीहत हो रही है। जो नेता अब तक उन्हें देश का मजबूत मेता मानते थे वह अब उन्हें कमजोर नेता मान रहे हैं। आलोचनाओं के बीच पाकिस्तान सरकार ने बौखलाहट में भारत को कूटनीतिक संबंध तोड़ने और युद्ध की धमकी दी है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00