माध्यमिक शिक्षकों की तैनाती में फर्जीवाड़ा, प्रशिक्षित स्नातक और प्रवक्ताओं का होगा सत्यापन

विजय सक्सेना, अमर उजाला, इलाहाबाद Updated Fri, 10 Nov 2017 09:54 AM IST
verification will be again Due to Falsification in secondary teachers appointment in uttar pradesh
माध्यमिक शिक्षकों की तैनाती में फर्जीवाड़े की शिकायत सामने आने के बाद शिक्षकों का सत्यापन कराने का निर्णय लिया गया है। इस संबंध में माध्यमिक शिक्षक चयन बोर्ड के उपसचिव ने प्रदेश के 18 मंडलों के जिला विद्यालय निरीक्षकों (डीआईओएस) को बुधवार को पत्र जारी किया है।
इसमें चयनित शिक्षकों के कार्यभार ग्रहण करने की सूचना उपलब्ध कराने और उनका सत्यापन कराने का निर्देश दिया गया है। सत्यापन के लिए इन जिलों के डीआईओएस को 21 से 24 नवंबर के बीच चयन बोर्ड में उपस्थित होना होगा।

ये भी पढ़ें- नौकरी के लिए कर दिया इतना बड़ा फर्जीवाड़ा, देखकर सकते में आ गई एसआईटी की टीम

माध्यमिक शिक्षक चयन बोर्ड से वर्ष 2013 के विज्ञापन के तहत 4799 प्रशिक्षित स्नातक और 875 प्रवक्ताओं का चयन हुआ था। इन शिक्षकों की 18 मंडल के अंतर्गत विभिन्न जिलों में तैनाती हुई। कुछ जिलों से यह शिकायत आई कि पैनल में चयनित शिक्षकों के स्थान पर फर्जीवाड़ा करके किसी अन्य की तैनाती करा दी गई। चयन बोर्ड ने इस मामले को गंभीरता से लिया।
आगे पढ़ें

डीआईओएस को सत्यापन का निर्देश

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Education News in Hindi related to careers and job vacancy news, exam results, exams notifications in Hindi etc. Stay updated with us for all breaking news from Education and more Hindi News.

Spotlight

Most Read

Career Plus

IAS की तर्ज पर होगी PCS की परीक्षा, नए पाठ्यक्रम को आयोग की हरी झंडी

पीसीएस मुख्य परीक्षा अब संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा की तर्ज पर कराई जाएगी।

24 फरवरी 2018

Related Videos

मालदीव संकट की ये है असली वजह

मालदीव के हालात सुधरते नजर नहीं आ रहे हैं। मलादीव इस वक्त सियासी संकट से जूझ रहा है। राष्ट्रपति अब्दुल्ला यमीन अब्दुल गयूम ने 15 दिनों के आपातकाल की घोषणा की है।

23 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen