Hindi News ›   Delhi NCR ›   Ghaziabad ›   कृषि विधेयक के विरोध में किसानों ने किया चक्का जाम

कृषि विधेयक के विरोध में किसानों ने किया चक्का जाम

Amarujala Local Bureau अमर उजाला लोकल ब्यूरो
Updated Sat, 26 Sep 2020 11:51 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
बुलंदशहर। संसद से पास तीन कृषि विधेयकों के विरोध में शुक्रवार को जनपदभर में किसान संगठनों, कांग्रेस और सपा ने प्रदर्शन किया। वहीं, भाकियू और कांग्रेस ने कालाआम चौराहे पर संयुक्त रूप से चक्का जाम करते हुए नारेबाजी की। इस दौरान पुलिसकर्मियों ने उन्हें समझाने की कोशिश भी की। करीब दो घंटे तक कालाआम चौराहे पर चक्का जाम रहा। इस दौरान नगर वासियों को काफी परेशानियों का सामना भी करना पड़ा।
विज्ञापन
गौरतलब है कि किसान संगठनों ने बीते दिनों ही देशव्यापी आंदोलन का आह्वान किया था। शुक्रवार सुबह दर्जनों भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारी और कार्यकर्ता एकत्रित होकर कालाआम चौराहे पर पहुंचे। जहां वह सड़क पर बैठ गए और चक्का जाम कर दिया। इस दौरान भाकियू के एनसीआर मंडल के महासचिव मांगेराम त्यागी पहुंचे और कार्यकर्ताओं के साथ कालाआम चौराहे पर जमकर नारेबाजी शुरू कर दी। वहीं, दूसरी तरफ वरिष्ठ नेताओं के आह्वान पर कांग्रेस के भी दर्जनों पदाधिकारी सुशील चौधरी के नेतृत्व में कृ़षि विधेयक विरोधी आंदोलन में शामिल हो गए। माांगेराम त्यागी ने बताया कि सरकार बिना किसान संगठनों और किसान नेताओं के साथ वार्ता कर किसानों के अहित के लिए यह विधेयक ला रही है। जिससे किसान को काफी नुकसान होगा। करीब दो घंटे तक कालाआम चौराहे पर जाम की भयावह स्थिति बनी रही। दोपहर करीब दो बजे अफसरों से मुलाकात के बाद भाकियू व कांग्रेस कार्यकर्ता वापस लौट गए। इस दौरान सिटी मजिस्ट्रेट, सीओ सिटी, नगर कोतवाल समेत भारी भरकम फोर्स मौके पर तैनात रहा। कांग्रेस की ओर से अनिल शर्मा, जयप्रकाश शर्मा, अनिल राघव, प्रशांत वाल्मीकि, इरफान कुरैशी, राकेश भाटी, प्रवीण तेवतिया आदि मौजूद रहे। मेरठ बदायूं मार्ग पर किसान सभा ने डीएवी फ्लाईओवर के निकट दर्जनों किसान सड़क पर बैठ गए और हाईवे पर जाम लगा दिया। इस दौरान कामरेड डीपी सिंह, सुरेंद्र सिंह, चंद्रपाल सिंह, जगवीर सिंह भाटी, मेघराज सिंह सोलंकी, अशोक सिरोही, मूलचंद सिंह, सुरेश चंद आदि मौजूद रहे। इसके अलावा विधेयक के विरोध में सपा कार्यकर्ताओं ने जिलाधिकारी को पांच सूत्रीय मांंगों का एक ज्ञापन सौंपा इस दौरान जिलाध्यक्ष अमजद अली गुड्डू, राहुल यादव, शुजात आलम, अब्दुल रब, महेंद्र सिंह यादव समेत अन्य सपाई मौजूद रहे।
जाम से हलकान हुआ शहर नगर के कालाआम चौराहे पर भाकियू और कांग्रेस के चक्का जाम के चलते चौराहे के चारों ओर जाम की भयावह स्थिति पनप गई। हालांकि, नगर कोतवाल व उनकी टीम ने चौराहे पर रूट डायवर्जन कर स्थिति को संभालने की भरसक कोशिश की। लेकिन, अस्पताल रोड, स्याना अड्डा रोड, लल्ला बाबू चौराहा रोड पर जाम की भयावह स्थ्िित पनप गई थी। चक्का जाम खुलने के बाद ही स्थिति सामान्य हो सकी। चौराहे पर ही हुक्के में भरे दम भाकियू व कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने चक्का जाम के दौरान कालाआम चौराहे पर ही हुक्का सुलगा लिया। जिसके बाद वह उसमें दम लगाते हुए नजर आए। करीब एक घंटे तक लोगों ने हुक्के में कश भरे। इसके अलावा गाड़ी के आगे लेटकर भी भाकियू के पदाधिकारियों ने लोगों को मार्ग से गुजने के लिए रोका। इस दौरान कुछ कार्यकर्ताओं की पुलिस से नोकझोक भी हुई।  

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00