Hindi News ›   Uttarakhand ›   Chamoli ›   Chardham Yatra 2021: Over One and half lakh pilgrims visited Badrinath this season

चारधाम यात्रा 2021: डेढ़ लाख से अधिक तीर्थयात्रियों ने किए बदरीनाथ के दर्शन, 20 को बंद होंगे कपाट

संवाद न्यूज एजेंसी, जोशीमठ Published by: अलका त्यागी Updated Sun, 07 Nov 2021 06:26 PM IST
सार

Chardham Yatra 2021: पांच अक्तूबर को छूट मिलने के बाद भारी तादात में तीर्थयात्री बदरीनाथ धाम पहुंचने लगे। इन दिनों प्रतिदिन हजारों तीर्थयात्री बदरीनाथ धाम के दर्शनों के लिए पहुंच रहे हैं।

बदरीनाथ धाम
बदरीनाथ धाम - फोटो : अमर उजाला फाइल फोटो
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

बदरीनाथ धाम के कपाट 20 नवंबर को बंद होंगे। अभी तक 1,54670 तीर्थयात्री बदरीनाथ धाम के दर्शन कर चुके हैं। इन दिनों कड़ाके की ठंड के बावजूद धाम में तीर्थयात्रियों का हुजूम उमड़ रहा है। रविवार को 1746 तीर्थयात्रियों ने भगवान बदरीनाथ के दर्शन किए।



कोविड को देखते हुए बीते 17 सितंबर को सीमित संख्या के साथ तीर्थयात्रियों को बदरीनाथ धाम के दर्शनों की अनुमति दी गई थी। पांच अक्तूबर को छूट मिलने के बाद भारी तादात में तीर्थयात्री बदरीनाथ धाम पहुंचने लगे। इन दिनों प्रतिदिन हजारों तीर्थयात्री बदरीनाथ धाम के दर्शनों के लिए पहुंच रहे हैं। देवस्थानम बोर्ड के मीडिया प्रभारी डा. हरीश गौड़ ने बताया कि बदरीनाथ धाम के दर्शन करने वाले तीर्थयात्रियों की संख्या डेढ़ लाख के पार पहुंच गई है।


गढ़वाल सांसद ने किए बदरीनाथ के दर्शन किए
गढ़वाल सांसद तीरथ सिंह रावत ने रविवार को बदरीनाथ धाम के दर्शन किए। रविवार सुबह करीब आठ बजे उन्होंने बदरीनाथ धाम की अभिषेक पूजा और अन्य पूजाओं में करीब आधा घंटे तक प्रतिभाग किया। देवस्थानम बोर्ड के कर्मचारियों ने उन्हें भगवान बदरीनाथ का अंगवस्त्र और प्रसाद भेंट किया। सांसद ने बदरीनाथ धाम में मास्टर प्लान के तहत होने वाले कार्यों की जानकारी भी ली। उन्होंने कहा कि केदारनाथ की तर्ज पर बदरीनाथ धाम का भी सौंदर्यीकरण होगा। जोशीमठ, पांडुकेश्वर और बदरीनाथ धाम में भाजपा कार्यकर्ताओं ने सांसद का फूल मालाओं से स्वागत किया। इस मौके पर भाजपा जिलाध्यक्ष रघुवीर सिंह बिष्ट और सांसद प्रतिनिधि किशोर सिंह पंवार आदि मौजूद थे। 

सुनीं आपदा प्रभावित की समस्याएं
पूर्व मुख्यमंत्री व गढ़वाल सांसद तीरथ सिंह रावत ने जोशीमठ के आपदा प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण किया। उन्होंने आपदा प्रभावितों की हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया। पूर्व मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने माणा बेनाकुली, लामबगड़, पांडुकेश्वर, जोशीमठ, बड़ागांव, ढाक, तपोवन, रैणी, सुरांईथोटा, भलगांव, फाग्ती और तमक गांव का भ्रमण किया। उन्होंने तमक नाले में मलारी हाईवे की स्थिति का जायजा लिया और आपदा प्रभावितों की समस्याएं सुनीं। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को आपदा प्रभावित क्षेत्रों में जाकर आपदा से हुई क्षति का आंकलन करने और प्रभावितों को उचित मुआवजा देने के निर्देश दिए हैं। जोशीमठ में लोनिवि के निरीक्षण भवन में उन्होंने भाजपा पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की बैठक ली। इस मौके पर भाजपा जिलाध्यक्ष रघुवीर सिंह बिष्ट, नगर अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह रावत, ग्रामीण मंडल अध्यक्ष जगदीश सती, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य माधव प्रसाद सेमवाल, पूर्व पालिकाध्यक्ष ऋषि प्रसाद सती, संदीप नौटियाल, जिला उपाध्यक्ष भगवती लंबूरी, अंजना शर्मा आदि मौजूद रहे। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00