विज्ञापन
विज्ञापन

पाक-चीन दोस्ती का एक शर्मनाक पहलू : घरवालों को हजारों डॉलर देकर 'शादी' के नाम पर ले जाया गया

प्रदीप कुमार, वरिष्ठ पत्रकार Updated Sat, 18 May 2019 04:38 AM IST
पाकिस्तान-चीन की शर्मनाक दोस्ती
पाकिस्तान-चीन की शर्मनाक दोस्ती - फोटो : ग
ख़बर सुनें
रमजान के मुकद्दस महीने की शुरुआत में पाकिस्तान में एक दिलचस्प वाकया हुआ। यूट्यूब पर एक वीडियो अपलोड हुआ, जिसमें दो नाबालिग ईसाई लड़कियों ने चीन में झेली मुसीबतों का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि उनके घरवालों को हजारों डॉलर देकर 'शादी' के नाम पर चीन ले जाया गया। वहां उन्हें तरह-तरह की यातनाएं दी गईं। इसी सिलसिले में यह भी मालूम हुआ कि पाकिस्तान से ले जाई गई 'बीवियों' से जिस्म का धंधा करवाया जाता है और उनके शरीर के अंग भी निकाले जाते हैं।
विज्ञापन
पाकिस्तान के पंजाब सूबे के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री असलम अगस्टिन ने बयान दिया कि लड़कियों की तिजारत के लिए चीन सरकार जिम्मेदार है। उन्होंने आरोप लगाया कि चीन की सरकार और इस्लामाबाद स्थित उसका दूतावास इस कारनामे की अनदेखी कर रहे हैं।

इसके दो दिन बाद पाकिस्तानी लड़कियों को ले जाने की कोशिश में दो और चीनी पकड़े गए। अदालत ने इन्हें हिरासत में भेज दिया है। मीडिया ने टिप्पणी की कि पाकिस्तान के ईसाइयों की गरीबी से कम्युनिस्ट देश के नागरिक नाजायज फायदा उठा रहे हैं। चीन सरकार को मजबूरन मुंह खोलना पड़ा। चीनी दूतावास के बयान में कहा गया, 'चीन-पाकिस्तान संयुक्त जांच में इस कथन का कोई प्रमाण नहीं मिला कि चीनी नागरिकों से ब्याही गई महिलाओं से धंधा कराया जाता है या बिक्री के लिए उनके शरीर के अंग निकाले जाते हैं।

चीनी अधिकारियों ने पाकिस्तान के आंतरिक सुरक्षा मंत्री एजाज अहमद शाह से दो बार मुलाकात कर नाराजगी जताई कि 'दुल्हनों के व्यापार के सिलसिले में चीनियों की गिरफ्तारी को प्रचारित किया जा रहा है। यदि किसी व्यक्ति ने कुछ गलत काम किया भी है, तो प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिये उसे प्रचारित नहीं किया जाना चाहिए।'

चीनी दूतावास ने सार्वजनिक बयान के माध्यम से पाकिस्तान की संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) के इस वक्तव्य का खंडन किया कि वेश्यावृत्ति और अंगों की बिक्री के लिए पाकिस्तानी लड़कियों को शादी का धोखा देकर चीन ले जाया जाता है।

पाकिस्तान सरकार ने चीन के बयान को गलत बताने के बजाय मीडिया का इस्तेमाल किया। सरकारी सूत्रों के हवाले से अखबारों ने लिखा कि हिरासत में लिए गए चीनियों को पाकिस्तान पहुंचने पर बिजनेस वीजा दिया गया।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

Recommended

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें
Uttarakhand Board

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें

विवाह में आ रहीं अड़चनों और बाधाओं को दूर करने का पाएं समाधान विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से
ज्योतिष समाधान

विवाह में आ रहीं अड़चनों और बाधाओं को दूर करने का पाएं समाधान विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Opinion

रमजान में मां की याद : नमाज के मामले में भी हमारे यहां ऐसा ही नियम था

मेरी मां धर्मनिष्ठ महिला थीं। पर रोजा रखने, न रखने की आजादी को वह महत्व देती थीं। आज के धार्मिक व्यक्तियों में मैं सहिष्णुता का यह गुण नहीं देखती।

22 मई 2019

विज्ञापन

जानिए क्या रहेगा इन स्टार्स का राजनीतिक भविष्य

लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजों में महज कुछ ही घंटे बचे हैं। हमेशा की तरह इस बार भी बॉलीवुड सेलिब्रिटीज चुनावी मैदान में उतारे हैं। इस लिस्ट में हेमा मालिनी से लेकर सनी देओल का नाम शामिल हैं।

22 मई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election